शाजापुर।पंचायत सचिव प्रतिदिन कार्यालय खोले और लोगों की समस्याओं का निराकरण करें। उक्त निर्देश कलेक्टर दिनेश जैन ने राजस्व सेवा अभियान में ग्राम दुधाना में लगे शिविर के निरीक्षण के दौरान दिए। शिविर में स्थानीय ग्रामीणजनों ने कलेक्टर को शिकायत की थी कि ग्राम पंचायत सचिव ग्राम में नियमित रूप से उपस्थित नहीं होते है और कार्यालय नहीं खोलते हैं। कलेक्टर ने तहसीलदार नरेन्द्र सिंह ठाकुर को निर्देश दिए कि ग्राम पंचायत सचिव के कार्य की समीक्षा करें।

कलेक्टर ने ग्रामीणों से उनकी राजस्व से संबंधित समस्याओं की जानकारी ली। फौती नामांतरण के संबंध में कलेक्टर ने ग्राम पंचायत सचिव से जन्म-मृत्यु रजिस्टर के बारे में पूछा। सचिव द्वारा संतोषप्रद जवाब नहीं देने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए जन्म-मृत्यु रजिस्टर अद्यतन करने के निर्देश दिए। साथ ही पटवारी को निर्देश दिए कि ग्राम में जितने में भी लोगो की मृत्यु हुई हो उनके फौती नामांतरण 15 जून तक कर रिपोर्ट दें। ग्रामीणों ने बताया कि बंदोबस्त के कारण उनकी भूमियां रिकार्ड में गलत दर्ज है, जबकि वे अपनी-अपनी भूमियों पर काबिज है, इसको दुरूस्त किया जाना जरूरी है। कलेक्टर ने पटवारी को निर्देश दिए कि त्रुटियों को 5 वर्ष से अधिक होने पर प्रकरण तैयार कर तहसीलदार के माध्यम से कलेक्टर कार्यालय को अनुमति के लिए भेंजे। साथ ही पटवारी को निर्देश दिए कि किन-किन किसानों के रिकार्ड में त्रुटि है उसकी सूची बनाएं। कोरोना से मृत्यु पर अनुग्रह सहायता राशि प्राप्त होने की जानकारी ग्रामीणों से लेने पर, ग्रामीणों ने बताया कि गोर्वधन एवं परमानंद की मृत्यु कोरोना से हुई है इनके परिवारों को अनुग्रह सहायता राशि नहीं मिली है। कलेक्टर ने इनके परिवार के सदस्यों से कहा कि वे अनुग्रह सहायता राशि प्राप्त करने के लिए अपना आवेदन कल ही सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ कलेक्टर कार्यालय में प्रस्तुत करें। इसी तरह से कलेक्टर ने ग्राम में जीर्णशीर्ण भवनों को नष्ट करने के लिए ग्राम पंचायत सचिव को प्रस्ताव पारित कराने के निर्देश दिए। इस मौके पर कलेक्टर ने मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना तथा स्वामित्व योजना के बारे में बताया। कलेक्टर ने पंचायत सचिव को निर्देश दिए कि आयुष्मान कार्ड बनने से शेष रहे व्यक्तियों के परिवार के सभी सदस्यों के आयुष्मान कार्ड बनवाएं। ग्रामीणों ने ग्राम की पेयजल समस्या से अवगत कराया। कलेक्टर ने कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी को पेयजल समस्या का निराकरण करने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि ग्रामीणों की राजस्व संबंधी शिकायतों, समस्याओं एवं कार्यों के निराकरण के लिए जिले में राजस्व सेवा अभियान का द्वितीय चरण 18 अप्रैल से 30 जून 2022 तक चलाया जा रहा है। अभियान के तहत जिले की प्रति गुरुवार को राजस्व अधिकारियों द्वारा चयनित ग्रामों में कैम्प लगाकर राजस्व संबंधी आवेदनों, शिकायतों के अंतर्गत सीमांकन, नामांतरण, बंटवारा, राजस्व रिकार्ड में सुधार, आवश्यकता अनुसार भू-अधिकार एवं ऋण पुस्तिका का वितरण करना, रास्ते संबंधी विवाद का निराकरण एवं सार्वजनिक मार्ग, चरनोई भूमि,शमशान भूमि, मंदिर की भूमि, सार्वजनिक स्थान आदि के अतिरिक्त नदी, नालों पर अतिक्रमण को रोकना एवं अतिक्रमण की सूचना प्राप्त होने पर स्थल का मौका मुआयना कर किये गये अतिक्रमण को तत्काल हटाया जाना तथा राहत राशि एवं दुर्घटना संबंधी प्रकरणों का निराकरण किया जाता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close