नलखेड़ा। नगर परिषद् नलखेड़ा के सरदार पटेल चौराहे पर स्वच्छ भारत मिशन के तहत लाखों रुपये खर्च कर बना सुलभ शौचालय निर्माण पूर्ण होने के लंबे समय बाद भी बंद पड़ा है। इस सुलभ शौचालय में ताला लटका हुआ है। जिसके कारण स्थानीय ग्रामीण एवं राहगीर कोई भी इसका उपयोग नहीं कर पा रहा है। स्थानीय नागरिकों की मानें तो शौचालय के बाहर लगे बने सुविधाघर की साफ-सफाई तो दूर चारो तरफ गंदगी का अम्बार लगा है। सुलभ शौचालय के बंद होने से सर्वाधिक परेशानी उन यात्री महिलाओं को होती है जो सफर के दौरान चौराहे पर आकर बसों का इंतजार करती है। आस पास के लोगों ने बताया कि चार साल पहले पंचायत के द्वारा यात्रियों को सुविधा प्रदान करने के मकसद से सार्वजनिक सुलभ शौचालय का निर्माण करवाया गया था, लेकिन इसे अब तक शुरू नहीं किया गया है।

स्वच्छ और स्वस्थ भारत के लक्ष्य के साथ केंद्र सरकार ने शौचालय निर्माण को अपनी महत्वाकांक्षी योजना बनाई। इसके तहत घरों में शौचालय निर्माण के साथ-साथ चौक-चौराहों, बाजार एवं घनी बस्ती में सामुदायिक शौचालय निर्माण पर करोड़ों रुपये खर्च किए गए।

हालांकि केंद्र सरकार की इस योजना ने लोगों को शौचालय तो दे दिया, लेकिन लापरवाही के कारण लोग इसका इस्तेमाल नहीं कर पा रहे है। वहीं सार्वजनिक स्थलों पर बने शौचालय देखरेख एवं सफाई के अभाव में उपयोग के लायक कम ही बचे है। अधिकतर सामुदायिक शौचालय बनने के बाद कुछ दिन इस्तेमाल किया गए उसके बाद उनमें ताला जड़ दिया। मगर सरदार पटेल चौराहे पर बना शौचालय शुरू ही नहीं किया गया।

उल्लेखनीय है कि शौचालय के संबंध में पहले भी कई बार खबरें प्रकाशित हुई है। जिम्मेदार अधिकारियों से चर्चा की गई। परन्तु सब कुछ जानकर भी जिम्मेदार चुप्पी साधें हुए है। अब सवाल यह उठता है कि आखिर किन कारणों की वजह से जिम्मेदार अधिकारी इस पर कोई कार्यवाही क्यों नहीं करते है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local