शाजापुर। शुकक्क्रवार को जिले भर में दशहरा पर्व परंरपरानुसार हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। शोभायात्रा निकलेगी तो कहीं राम लीला का मंचन होगा। आतिशबाजी के भी आयोजन होंगे। अतिथियों द्वारा शमी पूजन के पश्चात 71 फीट के रावण के पुतले का दहन किया जाएगा।

क्षेत्र में दशहरा पर्व मनाने की परंपरा काफी पुरानी है। हालांकि यह जरूर है कि समय के साथ धीरे-धीरे पर्व में भव्यता आने लगी है। हालांकि पिछले साल तो कोरोना संकट के चलते कार्यक्रम को कोरोना गाइड लाइन के मान से काफी कम लोगों के बीच मनाना पड़ा था। लेकिन अब कोरोना को लेकर कुछ राहत मिली है। ऐसे में इस बार हर्षोल्लास से पर्व मनाया जाएगा। हालांकि कोरोना संकट अभी टला नहीं है। इसलिए शासन द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करना होगा।

शमी पूजन के पश्चात होगा रावण के पुतले का दहन

शुक्रवार को शाम को धानमंड़ी स्थित श्रीकृष्ण व्यायाम शाला से राम दरबार की शोभायात्रा निकाली जाएगी। शाम पांच बजे यह शोभायात्रा शहर के प्रमुख मार्ग से होते हुए स्टेडियम मैदान पर पहुंचेगी। वहां पर शाम सात बजे से लेकर साढ़े आठ बजे उदबोधन, आतिशबाजी आदि का कार्यक्रम होगा। शमी पूजन के पश्चात रावण के पुतले का दहन किया जाएगा।

तैयारियों में जुटे रहे समिति सदस्य

सर्व हिंदू उत्सव समिति अध्यक्ष अध्यक्ष दिलीप भंवर, सचिव तुलसीराम भावसार, उपाध्यक्ष रामचंद्र भावसार, दशहरा उत्सव समिति के संयोजक महेश भावसार, समिति महेश प्रजापत,कोषाध्यक्ष अजय चंदेल, प्रवक्ता उमेश टेलर सहित अन्य पदाधिकारी व सदस्य गुरुवार को स्टेडियम मैदान पर दशहरा उत्सव की तैयारियों को लेकर जुटे रहे।

लोग ले रहे सेल्फी

स्थानीय स्टेडियम मैदान पर रावण का पुतला दो दिन पहले ही खड़ा किया जा चुका है। यहां पर आकर्षक लाइटिंग भी की गई है। रावण को देखने के लिए मैदान पर लोग रोज पहुंच रहे हैं। गुरुवार को भी दिन भर लोग यहां आते रहे। लोग रावण के पुतले के साथ लेल्फी लेकर फोटो सोशल मीडिया पर शेयर करते दिखे।

विशालकाय चलित पुतले

द्वारा रावण से युद्ध

आज दशहरा पर्व पर स्टेडियम मैदान पर रावण का पुतला आकर्षक का केंद्र रहेगा। दरअसल, पारंपरिक वेषभूषा में रावण हाथ में तलवार व ढाल लिए तो होगा ही वहीं रात में उसकी आंखें लाल दिखेगी। रावण के पुतले पर लाइटिंग इस तरह की गई है कि उसके आंखे लाल तथा वस्त्र टिमटिमाते हुए दिखेंगे। इससे ऐसा लगेगा मानों रावण गुस्से से लाल हो रहा है। वहीं इस बार के दशहरा पर्व पर विशेष बात यह रहेगी कि इस बार प्रभु श्रीराम के विशालकाय चलित पुतले द्वारा रावण से युद्ध का सजीव चित्रण भी किया जाएगा।

रावण दहन स्थल का किया निरीक्षण

कलेक्टर दिनेश जैन एवं पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव ने विजयादशमी पर्व के एक दिन पहले गुरुवार को परंपरागत रूप से किये जाने वाले रावण दहन स्थल स्टेडियम परिसर का निरीक्षण किया। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पीएस बघेल, अनुविभागीय अधिकारी शैली कनाश, एसडीओपी दीपा डोडवे, जिला होमगार्ड कमांडेन्ट विक्रमसिंह, रक्षति निरीक्षक विक्रमसिंह भदौरिया, सीएमओ भूपेन्द्र दीक्षित, सामाजिक कार्यकर्ता आशुतोष शर्मा, सचिन पाटीदार सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि रावण दहन स्थल पर उपस्थित होने वाली आम जनता से कोरोना गाईडलाइन का पालन कराने के उद्देश्य से जगह-जगह बैनर-पोस्टर लगाएं। सोशल डिस्टेंस का पालन कराएं। स्टेडियम की सीढ़ियों पर गोले बनाएं।

स्टेडियम के चारों गेट खुले रहेंगे

स्वास्थ्य विभाग की टीम कार्यक्रम के दौरान उपस्थित रहकर लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करें। आयोजक एवं नगरपालिका कोरोना गाईडलाइन का पालन कराने के लिए वालेंटियर तैनात करें। स्टेडियम परिसर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रखें। स्टेडियम के चारों गेट खुले रखें। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने इस दौरान बैठक व्यवस्था एवं आम जनता के लिए बनाए गए स्थल का भी निरीक्षण किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local