Sajapur news: शाजापुर। जिले में रबी सीजन में खाद की डिमांड चल रही है। खाद लेने आए किसानों ने हंगामा कर दिया। नाराज होकर वे हाईवे पर पहुंचे तथा कुछ देर के लिए जाम लगा दिया। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने समझाईश दी इसके बाद मामला शांत हुआ। गुरुवार को शहर के एबीरोड स्थित विपणन संघ गोदाम पर प्रतिदिन की तरह खाद का वितरण होना था। यहां पर व्यवस्था के आधार कुल 250 किसानों को खाद बांटने के लिए टोकन एक दिन पहले बुधवार को जारी कर दिए गए थे। जब गुरुवार को टोकन प्राप्त किसान खाद लेने लगे तो इस दौरान अन्य किसान भी वहां पहुंचने लगे तथा उन्होंने भी खाद की डिमांड की। कर्मचारियों ने बताया कि एक दिन पहले जिन किसानों को टोकन दिए गए थे उन्हें आज गुरुवार को खाद दिया जाएगा।

नाराज किसानों ने किया रास्ता जाम

यह प्रक्रिया लगातार चल रही है। लेकिन बिना टोकन वाले किसान मानने को तैयार नहीं हुए, वह भी खाद की लगातार मांग करते रहे। नाराज होकर वह सामने हाईवे पर पहुंचे और जाम लगा दिया। कोतवाली टीआई एके शेषा,तहसीलदार सुनील जायसवाल ने किसानों को समझाईश दी तथा मामला शांत कराया। उपसंचालक कृषि केएस यादव, डीएमओ प्रवीण रघुवंशी भी मौके पर पहुंचे तथा किसानों से चर्चा की तथा जिले में पर्याप्त खाद होने की बात कही। उन्होंने किसानों से कहा कि सभी को आवश्यकताअनुसार खाद दी जाएगी।

निजी प्रतिष्ठानों पर खाद लेने पहुंचे किसान

कुछ किसानों का कहना था कि विपणन संघ गोदाम पर निजी व्यवसायी भी काउंटर लगाकर बैठते तो वह हमें उनके यहां के टोकन बांट सकते थे। रैक से निजी प्रतिष्ठानों पर भी खाद का आंवटन हुआ। हालांकि हंगामे के बाद कई किसान निजी प्रतिष्ठान पर पहुंचे तथा वहां से खाद लिया। शाजापुर में विगत 15 दिनों में दो बार खाद के लिए किसानों ने हंगामा किया है। विशेष बात यह है कि दोनों ही बार खाद उपलब्ध था, इसके बावजूद हंगामे की स्थिति बनी। पिछले दिनों मार्केटिंग सोसायटी में पीओएस मशीन नहीं चलने से खाद देने में परेशानी आई थी तो किसान नाराज हो गए थे, वहीं अब गुरुवार को वितरित टोकन से ज्यादा किसानों के गोदाम पर आ जाने से हंगामा हुआ।

अन्य जिले के भी किसान आ रहे शाजापुर

उल्लेखनीय है विगत कई दिनों से लगातार यूरिया, डीएपी की रैक जिले को मिल रही है। खाद को सोसायटियों, निजी प्रतिष्ठानों आदि जगह पर भेजा जा रहा है। लेकिन खाद की डिमांड लगातार बने रहने का एक प्रमुख कारण शाजापुर के अलावा अन्य जिलों के किसानों का भी यहां आना है। शाजापुर में जब भी नगद में यूरिया या अन्य खाद दिया जाता है तो उज्जैन, राजगढ आदि जगह के किसान भी खाद लेने यहां आते हैं। हालांकि किसानों की आवयकता व परेशानी देखते हुए अब तक सभी जगह के किसानों को खाद दिया गया है।

Jagdalpur News: नशे में डाक्टर करते थे पीछा, पूछते थे- घर छोड़ दूं, दो नर्सों ने लिया दवाओं का हाइडोज

MP Weather Update: रात के तापमान में मामूली बढ़ाेतरी, कड़ाके की ठंड पर ब्रेक

jabalpur pollution : सुबह शाम की आबोहवा में प्रदूषण का जहर घोल रही पराली की आग आसमान में चहुंओर धुन्ध

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close