शाजापुर। त्योहारों का सीजन चल रहा है, इस दौरान कहीं मिलावटी या दूषित खाद्य सामग्री विक्रय न हो जाए इसके लिए खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा निरीक्षण एवं सैंपलिंग पर विशेष फोकस किया हुआ है। पिछले चार माह के दौरान विभाग द्वारा 130 सैंपल लिए गए हैं, जिसमें से 47 की रिपोर्ट आ चुकी है, प्राप्त रिपोर्ट में से 46 पास तो एक सैंपल फेल निकला है।

लोगों को गुणवत्तायुक्त खाद्य एवं पेय सामग्री मिले इसका जिम्मा खाद्य एवं औषधी प्रशासन विभाग पर रहता है। जिले में खाद्य सुरक्षा अधिकारी के पद पर आरके कांबले एवं एसएस खत्री पदस्थ हैं। हालांकि यहां पर एक पोस्ट रिक्त है, ऐसे में सिर्फ दो अधिकारियों पर सभी जगह निरीक्षण व सैंपलिंग करना होती है। निरीक्षण के दौरान लिए गए सैंपलों को जांच के लिए खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भेजा जाता है जहां से आई रिपोर्ट के बाद आगे की प्रकिया की जाती है। सैंपल के फेल होने पर नियमानुसार प्रकरण को कोर्ट या एडीएम कोर्ट में प्रस्तुत किया जाता है।

त्योहारों पर ज्यादा देना होगा ध्यान

वर्तमान में त्योहारों का सीजन चल रहा है। इस दौरान मिठाई, मावा सहित अन्य खाद्य सामग्री की बिक्री बढ़ गई है।

वहीं ज्यादा खपत होने पर मिलावटी व दूषित खाद्य सामग्री के बिकने की भी आशंका रहती है। इसलिए खाद्य सुरक्षा अधिकारियों को ज्यादा ध्यान देना जरूरी है। त्योहारों को देखते हुए विभाग द्वारा अब अवकाश के दिनों में भी सैंपलिंग करने की कवायद की जाने लगी है। शनिवार के बाद आज रविवार को भी निरीक्षण व सैंपल लिए जाएंगे।

छह जगह की सैंपलिंग

जानकारी के अनुसार शनिवार को खाद्य सुरक्षा अधिकारी कांबले द्वारा बेरछा में बीकानेर मिष्ठान भंडार से मावा का सैंपल लिया। वहीं नाकोड़ा रेस्टोरेंट से मावा बर्फी एवं नवीन रेस्टोरेंट से मावा का सैंपल लिया। इसी तरह खाद्य सुरक्षा अधिकारी खत्री द्वारा शुजालपुर की नेमा स्वीटस एंड कोल्ड्रिंगस से मैदा, नीलेश स्वीटस से मावा बर्फी तथा अमन होटल से शकर का सैंपल लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local