- पीडब्ल्यूूडी मंत्री बोले- जल्द निर्माण कार्य पूर्ण कराएंगे, विधायक ने कहा- विधानसभा में उठाऊंगा मुद्दा

- घटिया व गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य की खुल रही पोल, हजारों वाहन चालक रोज होते हैं परेशान

बेरछा। नईदुनिया न्यूज

करीब 12 कि मी बेरछा-सुंदरसी के बीच की सड़क पिछले पांच से अधूरी है। अब तक न तो सड़क पूरी तरह से बनकर तैयार हुई है और न ही पुल-पुलियाओं का निर्माण हो सका है। ऐसे में हर रोज हजारों राहगीर जर्जर सड़क से गुजरकर मुसीबत झेल रहे हैं। उक्त हिस्सा जिला मुख्यालय को राजधानी भोपाल से जोड़ने के लिए खास है कि ंतु इसके जर्जर होने से अब नेता-अधिकारी या आम लोग दूसरे रास्ते से सफर तय करना मुनासिब समझ रहे हैं। सड़क के अधूरी रहने के पीछे ठेके दार, जनप्रतिनिधि व अफसर लापरवाह हैं क्योंकि वे अब तक इसे पूरा ही नहीं करा सके हैं। हालांकि , मौजूदा पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा सड़क निर्माण जल्द पूरा करने का दावा कर रहे तो शुजालपुर से भाजपा विधायक इंदरसिंह परमार ने सड़क का मुद्दा विधानसभा में उठाने की बात कही है। अब देखना है कि मंत्री-विधायक के इन आश्वासनों से सड़क निर्माण की रफ्तार कि तनी तेज होती है।

बेरछा-सुंदरसी सड़क का निर्माण तत्कालीन भाजपा की प्रदेश सरकार के दौरान प्रारंभ हुआ था। शिवराज सरकार जाने के बाद अब कमलनाथ सरकार का भी एक वर्ष पूर्ण होने को है। बावजूद उक्त मार्ग का उद्धार नहीं हो सका है, जबकि उसके बाद क्षेत्र की कई सड़कों का कार्य पूर्ण हो चुका है। बारिश में कई दिनों तक कालीसिंध नदी (सुंदरसी) एवं कि शोनी नाले पर पानी होने से मार्ग बाधित रहता है। आमजन आज तक यह समझ नहीं पा रहे हैं कि उक्त सड़क निर्माण कार्य पांच वर्ष पूर्व प्रारंभ होने के बाद भी आज तक अधूरा क्यों पड़ा है। वहीं जो निर्माण हुआ है वह भी वर्तमान में सीसी रोड घटिया व गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य की वजह से उखड़ने लगा है। कई स्थानों पर सड़क इतनी खस्ताहाल हो चुकी है कि बाइक सवार गिरते-पड़ते दिखाई देते हैं।

सड़क, पुलिया के निर्माण कार्य की कछुआ चाल

उक्त 12 कि मी मार्ग में लगभग आधा दर्जन छोटी-बड़ी पुलिया का निर्माण होना है, जबकि हकीकत यह है कि छह वर्ष में मात्र कालीसिंध नदी पर स्थित पुल का निर्माण ही चल रहा है। इसकी लेटलतीफी की वजह से गत वर्षाकाल में मार्ग अधिक वर्षा की वजह से कई दफा घंटों बाधित रहा। यह शुजालपुर-अकोदिया सहित देवास जिले को जोड़ने वाला मुख्य मार्ग है। जिसमें दर्जनों यात्री बस, स्कू ल वाहन, चारपहिया वाहन सहित बाइक सवार प्रतिदिन हजारों की संख्या में निर्माणधीन सड़क के बीच धूल के गुबार की बीच सफर तय करते हैं। ज्ञात रहे कि उक्त सड़क निर्माण के बारे में विभाग द्वारा कहीं भी निर्माण की लागत, निर्माणाधीन एजेंसी, सड़क की लंबाई-चौड़ाई के साथ ही निर्माण कार्य को पूर्ण होने की अवधि से संबंधित साइन बोर्ड भी नहीं लगाए गए हैं। सड़क निर्माण एजेंसी पर लोक निर्माण विभाग की मेहरबानी भी चर्चा का विषय बनी हुई है। वहीं बेरछा-सुंदरसी मार्ग के 12 कि मी में से चार कि मी बेरछा-रंथभंवर का निर्माण कार्य का पूर्व ठेका निरस्त होने के बाद वर्तमान में पुनः सड़क निर्माण के लिए स्वीकृत हुआ है। जिसके टेंडर होना बाकी है।

बॉक्स लगाएं...

भोपाल पहुंचने का मुख्य मार्ग, महाकाल मंदिर तक पहुंचने में भी परेशानी

जिला मुख्यालय शाजापुर से बेरछा तक तो कु ल 17 कि मी सड़क पक्की है कि ंतु इसके बाद बेरछा से सुंदरसी तक सड़क के हालत खस्ता है। पूर्व में अधिकांश जनप्रतिनिधि, अफसर एवं आमजन जिला मुख्यालय से इसी मार्ग से बेरछा, सुंदरसी होकर पोलायकलां, अवंतिपुर बड़ोदिया होते हुए आष्टा मार्ग और फिर इंदौर-भोपाल स्टेट हाईवे से होकर भोपाल पहुंचते थे लेकि न 12 कि मी के जर्जर हिस्से की वजह से अब जिला मुख्यालय से अधिकांश लोग इस मार्ग का उपयोग नहीं करते हुए अन्य मार्गों से गुजर रहे हैं। इससे समय व आर्थिक हानि भी हो रही है। दूसरी ओर सुंदरसी में प्रसिद्ध महाकाल मंदिर भी है, जो उज्जैन के महाकाल मंदिर की तर्ज पर ही बनाया गया था। उक्त मंदिर तक पहुंचने में भी श्रद्धालुओं को परेशानी होती है।

विधानसभा को उठाऊंगा मामला

- सड़क की गुणवत्ता एवं निर्माण में हो रही देरी को लेकर अधिकारियों से चर्चा करेंगे। आवश्यकता पड़ी तो आगामी विधानसभा सत्र में भी इस मुद्दे को उठाऊंगा। जिससे कि आमजन की परेशानी दूर हो सके । -इंदरसिंह परमार, विधायक शुजालपुर

जल्द पूरा कराएंगे

- बेरछा-सुंदरसी सीसी सड़क निर्माण कार्य के बारे में अधिकारियों को निर्देशित कि या है। जल्द ही सड़क का निर्माण कार्य पूरा होगा। -सज्जनसिंह वर्मा, पीडब्ल्यूडी मंत्री मप्र

फोटो : 13एसजेआर14

कै प्शन-बेरछा-सुंदरसी के बीच हुए सीसी रोड भी उखड़ चुका तो काफी हिस्सा अधूरा ही है।

फोटो : 13एसजेआर15

कै प्शन-सुंदरसी के पास कालीसिंध नदी पर बना अधूरा पुल।

फोटो : 13एसजेआर16

कै प्शन- बेरछा-सुंदरसी के बीच कि शोनी में जर्जर पुलिया के ऊपर से बहता नाले का पानी।

----

बॉक्स लगाएं...

सुंदरसी तिराहे की सुध भी नहीं, पानी में से गुजर रहे राहगीर

बेरछा-सुंदरसी पहुंच मार्ग पर खस्ताहाल सड़क के कारण वाहन चालकों व राहगीरों को परेशानी होती ही है। साथ ही बेरछा में ही सुंदरसी नाका तिराहे की भी जिम्मेदारों ने कोई सुध नहीं ली है। दरअसल, तिराहे पर बड़ा सा गड्ढा हो चुका है। इसमें पानी भरा हुआ है। उक्त तिराहा बेरछा-सुंदरसी व शाजापुर मार्ग पर अत्यधिक व्यस्ततम तिराहा है। यहां से सैकड़ों वाहन, यात्री बस प्रतिदिन निकलती हैं और स्कू ल बस मासूम नौनिहालों को लेकर आती-जाती है। रिछोदा हादसे के बाद नौनिहालों की सुरक्षा को लेकर भी जिम्मेदार सतर्क नहीं हुए।

-----------

Posted By: Nai Dunia News Network