-कलेक्टर ने जनगणना कार्य अच्छे से पूरा करने के दिए निर्देश

आगर-मालवा (नईदुनिया न्यूज)। जनगणना 2021 विभिन्ना चरणों में एक मई से 14 जून के दौरान की जाना है। जनगणना निदेशालय द्वारा जारी कार्यक्रम अंतर्गत जिले के जनगणना अधिकारियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण बुधवार से आगर के ई-दक्षता केन्द्र में शुरू किया गया।

कलेक्टर एवं जिला जनगणना अधिकारी संजयकुमार ने प्रशिक्षण का शुभारंभ करते हुए कहा कि प्रथम चरण में मकान सूचीकरण एवं मकानों की गणना तथा राष्ट्रीय जनगणना रजिस्टर (एनपीआर) का अपडेशन किया जाना है। जनगणना निदेशालय मध्यप्रदेश भोपाल से आए प्रशिक्षको से प्रशिक्षण गंभीरता से लें। शंकाओं का समाधान भी तत्काल प्राप्त करें। यह कार्य समय सीमा में पूर्ण करना होता है। जनगणना में एकत्रित आंकड़ों के आधार पर ही जनकल्याण और विकास की योजनाएं तैयार की जाती है। निर्वाचन के साथ-साथ अन्य कार्यो में भी जनगणना का डाटा सम्मिलित होता है। इसलिए यह कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ गंभीरता से पूरा करें। जनगणना निदेशालय मध्यप्रदेश भोपाल से आए प्रशिक्षक अधिकारी सतीश अरवर, सूरज बगड़े व अन्य अधिकारी ने बताया कि एनपीआर के अपडेशन के लिए किसी भी प्रकार के दस्तावेज नहीं मांगे जाना है। प्रशिक्षण में जनगणना कार्य से जुड़े जिले के अपर कलेक्टर एनएस राजावत, जिला योजना एवं सांख्यिकीय अधिकारी सुनील चौहान, एसडीएम एमएस कवचे आगर, मनीष जैन सुसनेर एवं जनपद पंचायतो और नगरीय निकायो के सीएमओ उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network