शाजापुर। प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश शुजालपुर द्वारा आरोपित बाबूलाल पिता पूनाजी मीना निवासी चित्तौड़पुरा का जमानत आवेदन पत्र अतिरिक्त डीपीओ संजय मोरे शुजालपुर के तर्कों से सहमत होते हुए निरस्त कर दिया है। जिला मीडिया प्रभारी एवं एडीपीओ सचिन रायकवार ने बताया कि 27 मार्च को शाम 7.30 बजे जब फरियादी मनोज अपने भाई मिथुन के साथ बैठा था। तब आरोपित बाबूलाल ने मजदूरी के पैसे को लेकर उसके साथ गाली गलोज की। फरियादी ने गालियां देने से मना कि या तो आरोपी तलवार लेकर आया और हमला कि या। फरियादी ने सीधे हाथ से तलवार को रोका जिससे उसकी अंगुली के पास चोंट आई। आरोपित ने फिर तलवार मारी तो फरियादी की भौंह पर व दांहिने गाल पर चोंट लगी। फरियादी ने शोर मचाया। जिस पर उसकी पत्नी ललिता और पड़ोसी बद्रीलाल आ गए। आरोपी जाते-जाते बोला कि आज तो बच गया आइंदा जान से खत्म कर दूंगा। फरियादी को उसका भाई मिथुन उपचार के लिए मोटरसाइकि ल से अस्पताल लेकर आया। जहां पुलिस ने फरियादी के बताए अनुसार देहाती नालशी लिखी। देहाती नालशी के आधार पर पुलिस ने थाना शुजालपुर सिटी पर अपराध पंजीबद्ध कर अनुसंधान कि या। जिसमें आरोपित को गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत कि या गया था।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना