शाजापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अब से ठीक 24 घंटे बाद कोरोना महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण कार्यक्रम का श्रीगणेश हो जाएगा। कार्यक्रम में गुरुवार शाम को जिले के अधिकारियों की बैठक में विचार-विमर्श के बाद बड़ा परिवर्तन किया है। शुरुआत से 11 सेंटरों पर टीकाकरण किए जाने की बात जिम्मेदार कह रहे थे। किंतु गुरुवार को हुई बैठक के बाद शुरुआत में सिर्फ तीन सेंटरों पर टीकाकरण किए जाने की निर्णय लिया गया है।

खास बात यह है कि कार्यक्रम में आए दिन परिवर्तन हो रहे हैं और इसे गोपनीय भी रखने के प्रयास जिम्मेदारों द्वारा किए जा रहे हैं। बहरहाल पूरे एक साल महामारी से लड़ाई के बाद अब वो ऐतिहासिक पल आ रहा है जो इस जानलेवा कोरोना वायरस पर जीत दिलाने में महत्वपूर्ण पायदान साबित होगा। जिले को पहले चरण में वैक्सीन के पांच हजार 180 डोज मिले हैं, जबकि जिले में टीकाकरण के लिए चार हजार 239 हेल्थ वर्कर चिन्हित किए गए हैं। इन्हें पहले चरण में टीका लगाया जाएगा। बुधवार देर रात वैक्सीन जिला मुख्यालय पहुंच गई और इसे जिला अस्पताल के वैक्सीन स्टोर में रखा गया है।

पहले सप्ताह में यहां होगा टीकाकरण

प्राप्त जानकारी अनुसार जिले में टीकाकरण की शुरुआत सिर्फ तीन सेंटरों से की जा रही है, जिनमें शाजापुर ट्रामा सेंटर का सी ब्लॉक, शुजालपुर और बेरछा में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर शामिल हैं। इन तीन केंद्रों पर 16 से 23 जनवरी के दौरान पांच दिन टीकाकरण होगा। एक सेंटर पर एक दिन में अधिकतम सौ लोगों को टीका लगाया जाएगा। इस लिहाज से तीन सेंटरों पर एक दिन में तीन सौ लोगों को वैक्सीन लगेगी। इस हिसाब से पहले सप्ताह पांच दिन के टीकाकरण में एक हजार पांच सौ हेल्थ वर्कर को वैक्सीन लगा दी जाएगी। इसके बाद अगले सप्ताह मे दूसरे सेंटरों पर टीकाकरण किया जाएगा। जिले में पहले चरण का टीकाकरण कुल चार सप्ताह में पूरा हो जाएगा।

पुलिस के पहरे में वैक्सीन

बुधवार को जिले को वैक्सीन प्राप्त हो गई है। आगर-मालवा जिले के वाहन से ही शाजापुर जिले की वैक्सीन भी लाई गई है। देर रात शाजापुर पहुंचे वैक्सीन के डोज को स्टोर में रखवा दिया गया है। इसके बाद से ही यहां पुलिस का पहरा लगा हुआ है। हथियारबंद पुलिसकर्मी 24 घंटे यहां मौजूद है। इसके अलावा स्वास्थ्यकर्मियों की ड्यूटी भी स्टोर सेंटर पर लगी है। वह भी वैक्सीन की सुरक्षा और रखरखाव को लेकर अलर्ट हैं।

सिर्फ सीएमएचओ देंगे जानकारी

टीकाकरण कार्यक्रम से संबंधित जानकारी मीडिया को देने का जिम्मा सीएमएचओ डॉ. राजू निदारिया को दिया गया है। गुरुवार के पहले तक स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अन्य अधिकारी कर्मचारी भी वैक्सीनेशन और तैयारियों से जुड़ी जानकारी पर खुलकर बात कर रहे थे। किंतु गुरुवार को अचानक टीकाकरण कार्यक्रम में बड़े परिवर्तन हुए। इसी के साथ कार्यक्रम से जुड़ी जानकारी या बयान देने के लिए सीएमएचओ डॉ. निदारिया को अधिकृत किया गया है। नई व्यवस्था से मीडिया को जानकारी के लिए कई अधिकारियों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। दूसरी और एक समस्या यह भी है कि सीएमएचओ के बैठक आदि में व्यस्त होने पर उनसे बात करना या बयान ले पाना मुश्किल होगा। बता दें कि टीकाकरण कार्यक्रम को लेकर हर दिन वीडियो कॉफ्रेसिंग और बैठकों का दौर चल रहा है।

आंकड़ों में टीकाकरण

- 5180 डोज जिले को प्राप्त हुए

- 4239 हेल्थ वर्कर का पहले चरण में टीकाकरण

- 11 सेंटर जिले में वैक्सीनेशन के लिए

- 03 सेंटरों पर पहले सप्ताह में होगा टीकाकरण

- 05 दिन पहले सप्ताह में होगा टीकाकरण

- 06 झोनल ऑफिसर रखेंगे टीकाकरण पर नजर

- 11 मेडिकल ऑफिसर किए गए हैं सेंटरों पर तैनात

तैयारी पूरी

16 जनवरी से तीन सेंटरों पर टीकाकरण कार्यक्रम शुरू होगा। इसके लिए तैयारियां कर ली गई हैं। जिले को वैक्सीन भी प्राप्त हो गई है, जो जिला अस्पताल के वैक्सीन स्टोर में रखवाई गई है।

- डॉ. राजू निदारिया, सीएमएचओ

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस