शाजापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया गया। जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संपन्ना हुए कार्यक्रम में कलेक्टर दिनेश जैन, अपर कलेक्टर मंजूषा विक्रांत राय सहित भाजपा जिलाध्यक्ष अम्बाराम कराड़ा, पूर्व विधायक अरूण भीमावद, संतोष जोशी, हरिओम गोठी, नवीन राठौर, चंदरसिंह सौराष्ट्रीय, आशीष नागर, किरणसिंह ठाकुर, पूर्व नगरपालिका उपाध्यक्ष मनोहर विश्वकर्मा, सोनू गवली सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। सभी अतिथियों ने सर्वप्रथम नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर माल्यार्पण किया।

इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष कराड़ा ने संबोधित करते हुए कहा कि भारत की आजादी में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का अतुल्य योगदान है। नेताजी ने विपरीत परिस्थितियों में भी इतिहास बनाया। आजाद हिंद सेना का गठन कर नेताजी ने भारत की आजादी की लड़ाई लड़ी। इस मौके पूर्व विधायक भीमावद ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के जीवन पर प्रकाश डाला। कलेक्टर जैन ने नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की विचारधारा के बारे में बताते हुए कहा कि वे कुशाग्र बुद्धि से परिपूर्ण थे। ब्रिटिश सरकर की आईसीएस परीक्षा पास करने के बाद भी उन्होंने भारत की आजादी के लिए सबकुछ त्याग दिया। उन्होंने कहा कि सभी को नेताजी के राष्ट्रप्रेम से प्रेरणा लेनी चाहिए। इस मौके पर नेताजी सुभाष चन्द्र बोस से संबंधित फिल्म के अंश भी दिखाए गए। उल्लेखनीय है कि भारत शासन ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती को प्रतिवर्ष पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags