शाजापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। 15 माह बाद एक बार फिर कालेज की कक्षाओं में विद्यार्थी पहुंचे। कोरोना संक्रमण का प्रभाव कम होने के बाद धीरे-धीरे संक्रमण के कारण लगाई पाबंदियां खत्म हो रही हैं। बुधवार को पहले दिन कालेजों में विद्यार्थियों की उपस्थिति कम ही रही। साथ ही अधिकांश कालेजों में पढ़ाई भी पहले दिन नही हुई। विद्यार्थियों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के बारे में बताया गया। कई माह बाद कालेज की कक्षा में पहुंचकर विद्यार्थी उत्साहित दिखाई दिए। अपने सहपाठियों से भी उनकी मुलाकात हुई।

वैक्सीन लगी होने पर ही मिला प्रवेश

आगर-मालवा। शासकीय नेहरू स्नातकोत्तर महाविद्यालय में पांच माह बाद कॉलेज में रौनक लौटी। नियमित कक्षाओं का संचालन भी प्रारंभ किया गया। जिन छात्र-छात्राओं ने कोरोना का टीका नहीं लगवाया था। उन्हें हाथोंहाथ स्वास्थ्य विभाग की टीम की सहायता से मौके पर ही टीका लगवाया और कॉलेज में प्रवेश दिया गया। कक्षाओं के आरंभ होने के साथ राष्ट्रीय शिक्षा नीति अंतर्गत नवीन पाठ्यक्रम के लिए महाविद्यालय में 15 से 25 सितंबर तक विद्यार्थियों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया जाना है। इसके अंतर्गत प्रथम दिवस की कार्यशाला में 120 विद्यार्थियों ने भाग लिया। महाविद्यालय के प्रो. सुशीलकुमार कटारिया, डॉ.स्मिता सुखवाल, गोविंद पाटीदार, आशा सिसोदिया, संतोष एसके, अरविन्द शर्मा, प्रदीप शर्मा ने प्रशिक्षण दिया। साथ ही प्राचार्य डॉ.रेखा गुप्ता ने नवप्रवेशित विद्यार्थियों को नवीन शिक्षा नीति 2020 की विशेषता व महत्व के बारे में जानकारी दी। कोविड 19 से सुरक्षा और दिए गए मानकों के आधार पर विद्यार्थियों को महाविद्यालय में प्रवेश दिया गया। साथ ही ऐसे विद्यार्थियों जिन्होंने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई थी, उन्हें स्वास्थ्य विभाग की सहायता से वैक्सीन लगवाई।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local