शाजापुर। संजय राठौर

बिजली कंपनी व उपभोक्ताओं को सीधे जोड़ने के लिए ऊर्जा मित्र एप बनाया गया है। इस एप से अब उपभोक्ताओं को बिजली कंपनी की गतिविधियों की सूचना सीधे मोबाइल पर मिल जाया करेगी। उपभोक्ताओं को बिजली गुल होने का कारण से लेकर बिजली कब आएगी, इसकी जानकारी भी लगेगी। इस डिजिटल व्यवस्था के लिए जिले के उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर लेकर उन्हें पोर्टल पर फीड करने के काम में बिजली कंपनी का अमला जुट चुका है।

जिले में कहीं भी बिजली गुल हो जाने पर अमूमन उपभोक्ता बिजली कंपनी के दफ्तर या संबंधित अधिकारी व कर्मचारी को फोन लगाकर पूछते हैं। यदि कारण मालूम भी पड़ जाए तो काम पूरा होने तक इंतजार करना पड़ता है या बार-बार फोन लगाने पड़ते हैं लेकिन अब सरकार द्वारा शुरू किए गए ऊर्जा एप के माध्यम से कंपनी सभी उपभोक्ताओं को फीडर से बिजली प्रदाय बंद होने सहित अन्य तरह की जानकारियां तुरंत उनके मोबाइल पर एसएमएस करने की व्यवस्था कर रही है।

मेंटेनेंस की भी मिलेगी जानकारी

जानकारी के अनुसार उपभोक्ताओं को इस एप से बिजली मेंटेनेंस व्यवस्था के तहत बिजली सप्लाई बंद करने एवं चालू होने की सूचना एक दिन पहले ही मिल जाया करेगी। इससे लोग अपने आवश्यक कार्य अपनी सुविधा के मान से कर लेंगे। इससे उन्हें ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

डेढ़ लाख से ज्यादा उपभोक्ताओं को होगा लाभ

जिले के शाजापुर, मोहन बड़ोदिया, कालापीपल व शुजालपुर चारों विकासखंड में कुल 22 डीसी हैं। वहीं डेढ़ लाख से ज्यादा बिजली उपभोक्ता हैं। इसमें शहर के 14 हजार बिजली उपभोक्ता भी शामिल हैं। इन सभी को इस एप से जुड़ने के बाद लाभ मिलेगा।

अभी इतना काम निपटा

जानकारी के अनुसार बिजली कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर लेकर उन्हें पोर्टल पर फीड करने का काम किया जा रहा है। अब तक जिले में 70 फीसद उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर लिए जा चुके हैं। जिन्हें फीड करने का काम किया जा रहा है। बिजली कंपनी ने फिलहाल उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर लेकर जनवरी माह तक पोर्टल पर फीड करने का लक्ष्य रखा है।

अधिकारी-कर्मचारी जुटे काम में

बिजली कंपनी वरिष्ठ ऊर्जा मित्र एप की सुविधा सभी उपभोक्ताओं तक पहुंचाने के लिए लाइनमैन से लेकर अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर जुटाने में लगे हुए हैं। करीब 50 हजार मोबाइल नंबरों को और जुटाया जाना है।

उपभोक्ता स्वयं भी जुड़ सकते हैं

- उपभोक्ताओं से अपील भी की जा रही है कि यदि कोई उपभोक्ता छूट जाए तो वह स्वयं भी बिजली कंपनी के पोर्टल पर जाकर अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करा सकते हैं।-इंद्रपाल लोधी, सहायक यंत्री

आम लोगों को होगी सुविधा

- जिले में ऊर्जा मित्र एप से उपभोक्ताओं को जा़ेड़ने का काम चल रहा है। इस एप की मदद से उपभोक्ताओं को बिजली सप्लाई बंद होने का कारण से लेकर व्यवस्था सुचारू होने आदि तरह की जानकारी एसएमएस से मिल जाएगी। इस एप से आम लोगों को काफी सुविधा होगी। -एसआर सेमिल, अधीक्षण यंत्री बिजली कंपनी