कालापीपल मंडी। नगर के देवी पंडालों में नवमी पर हवन पूजन किया गया। यहां विराजित भव्य मूर्तियों का शुक्रवार को विसर्र्जन किया जाएगा।

नगर में इस बार लगभग आधा दर्जन स्थानों पर मूर्तियां स्थापित की गई। इसमें शिव नगर एवं भवानी चौक पर बनाई गई झांकी को देखने के लिए श्रद्घालुओं का तांता लगा रहा। गुरुवार को इन पंडालों में दिनभर हवन एवं धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। शुक्रवार को सुबह 8 बजे से पंडालों में विराजित मूर्तियों का विसर्जन जुलूस प्रारंभ होगा। जो नगर के मुख्य मार्गों से होता हुआ पानखेड़ी तालाब पहुंचेगा। यहां नगर परिषद द्वारा विसर्जन की व्यवस्था की गई है। मूर्तियों की भव्यता को देखते हुए समिति सदस्यों को भी विसर्जन के दौरान विशेष सावधानी बरतना होगी। इधर नगर के दुर्गा मंदिर, गायत्री मंदिर, मां कैलादेवी मंदिर पर भी अष्टमी एवं नवमी को श्रद्घालुओं को भीड़ रही। मां कैलादेवी मंदिर पर मदनलाल दीपक कुमार अग्रवाल द्वारा छप्पन भोग लगाया गया। इसी प्रकार मां गायत्री मंदिर पर नवमी पर हवन किया गया जिसमें काफी संख्या में भक्तों ने हवन में आहुतियां दी।

रात में लाई जाएंगी मूर्तियां

इधर सार्वजनिक दुर्गा उत्सव समिति द्वारा दशहरे के दूसरे दिन से पांच दिवसीय गरबा का आयोजन किया जाएगा। वर्षों से चली आ रही परपंरा का निर्वहन करते हुए समिति सदस्य राजीव चौक पर स्वर्गीय ब्रजकिशोर उपाध्याय के निवास पर विराजित मां दुर्गा की मूर्ति को दशहरा की रात्रि कन्या शाला परिसर में लेकर आएंगे। यहां समिति द्वारा भव्य झांकी का निर्माण किया गया है। पांच दिनों तक यहां गरबा की धूम रहेगी। शरद पूर्णिमा को खीर के प्रसाद वितरण के बाद मूर्ति का विसर्जन होगा।

कालका माता मंदिर में र् पूर्णाहुति :

सुसनेर। शहर में शारदीय नवरात्र की महानवमी के अवसर पर गुरुवार की दोपहर 12 बजे पुराना बस स्टैंड क्षेत्र में आबकारी विभाग स्थित कालका माता मंदिर में नवरात्र की पूर्णाहुति स्वरुप महायज्ञ किया गया। यहां पर सर्व मंगलकामना की पूर्ति हेतु श्रद्घालुओं द्वारा 1100 बार आहुतियां भी दी गई। इस अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्घालु जल्दी मौजूद रहे।माता रानी की आरती कर प्रसादी का वितरण किया गया।

नवदुर्गा पंडाल में हुआ हवन

सुसनेर। गांव मोड़ी के आवास कॉलोनी पर सारथी युवा मंडल द्वारा स्थापित नवदुर्गा पंडाल में महानवमीपर पुर्णाहुति हवन किया गया। यज्ञ प्रक्रिया पंडित जगदीश बैरागी ने कराई। पुर्णाहुति हवन के बाद ज्वारे एवं मूर्ति विसर्जन शनिवार को किया जाएगा। इस अवसर पर घनश्याम चन्द्रवंशी शिक्षक, मोहनलाल खतेडिया , जगदीश परमार, राकेश भिलाला, ईश्वर चौहान, दुर्गेश सोलंकी, राधेश्याम मालवीय, गोविंद चौहान, अर्जुन भिलाला , अरविंद सोलंकी, गोविंद प्रजापति आदि उपस्थित रहे।

हनुमान मंदिर में रामायण परायण का समापन

आगर मालवा। तहसील चौराहे पर स्थित श्री वीर हनुमान मंदिर में चल रहे 9 दिवसीय अखंड रामायण पारायण का गुरूवार को विधी विधान से हवन, पूजन व अनुष्ठान कर समापन किया गया। नवरात्रि के 9 दिन अखंड रामायण पाठ का आयोजन मंदिर परिसर में किया जा रहा था। नवमी पर श्री वीर हनुमान जी का आकर्षक श्रंगार कर हवन पूजन किया गया।

ज्ञात हो कि मंदिर परिसर में अखण्ड रामायण परायण विगत 25 वर्षो से अनवरत जारी हैं। समाप्ति के दौरान बड़ी संख्या में मंदिर समिति के सदस्य व भक्तगण मौजूद रहे। उक्त जानकारी समिति सचिव राजकुमार अजमेरा ने दी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local