श्योपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। श्योपुर-शिवपुरी हाइवे पर बुधवार को बाइक सवार दो लोग सड़क हादसे का शिकार हो गए। एक बंदर को बचाने के फेर में उनकी बाइक खंती में जा गिरी। पत्थरों से टकरा जाने के कारण उन्हें सिर व हाथ-पैरों में चोट लग गई। घायल होकर दोनों लोग मदद के लिए तड़प रहे थे। इसी बीच अपनी कार में सवार होकर ग्वालियर निजी काम से जा रहे एसआइ और एएसआइ की नजर घायलों पर पड़ी। उन्होंने अपनी कार से दोनों घायलों को राहगीरों की मदद से तुरंत अस्पताल पहुंचाया। पुलिस की इस दरियादिली की सभी ने सराहना की।

श्योपुर के ग्राम प्रेमसर निवासी मंगल सिंह और जगदीश धूलिया बुधवार की सुबह अपनी बाइक से ग्वालियर जा रहे थे। शिवपुरी की पोहरी तहसील के नजदीक जंगल में इनकी बाइक के सामने अचानक एक बंदर आ गया। बंदर को बचाने के फेर में बाइक अनियंत्रित हुई और सीधे खंती में जा गिरी। दोनों बाइक सवार उचटकर दूर पत्थरों पर जा गिरे। हादसे में दोनों लोग बुरी तरह घायल हो गए। काफी देर से ये लोग दर्द से तड़प रहे थे। मदद के लिए लोगों को वे रोक भी रहे थे, लेकिन एक्सीडेंट का केस होने के कारण किसी ने उनकी मदद नहीं की। इसी बीच कार में सवार होकर गुजर रही श्योपुर में पदस्थ महिला सब इंस्पेक्टर रीना शाक्य और एएसआइ बृजराज यादव की उन पर नजर पड़ी। दोनों पुलिसकर्मियों ने राहगीरों की मदद लेकर घायलों को अपनी कार में बैठाया और पोहरी स्थित सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिसकर्मियों की मदद के चलते इन्हें जल्दी इलाज मिल गया, जिससे उनकी जान बच गई। दोनों घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल के लिए रैफर कर दिया गया। घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close