श्योपुर। पिछड़े और दलितों को आरक्षण की व्यवस्था संविधान ने दी है। अब भाजपा और कांग्रेस मिलकर आरक्षण को खत्म करने का षणयंत्र कर रहे हैं। जब संघ प्रमुख मोहन भागवत ने आरक्षण को खत्म करने का बयान दिया था तब कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने भागवत के बयान का समर्थन किया था। अगर कांग्रेस आरक्षण को खत्म करने के षणयंत्र में शामिल नहीं होती तो अब तक मनीष तिवारी को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया होता। यह बात बहुजन समाज पार्टी के मप्र प्रभारी सुमरत सिंह ने कहीं। रविवार को श्रीहजारेश्वर मेला मैदान में बसपा की आरक्षण बचाओ रैली को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर

रहे थे।

बसपा के प्रदेश प्रभारी ने भाजपा और मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा नेताओं की झूठी बातों से जनता ऊब गई है। पहले दिल्ली में और फिर बिहार में जिस तरह लोगों ने भाजपा को नकारा है वैसी दुर्दशा अगले चुनाव में मध्यप्रदेश में भी होगी। दिमनी विधायक बलवीर दंडौतिया ने कहा कि हर सरकार चुनाव में दलित और पिछड़ों के उत्थान के वादे कर सत्ता में आते हैं। कुर्सी मिलते ही दलितों और पिछड़ों के अधिकार छीनने का काम करने लगते है। अब ऐसा नहीं सहेंगे। कार्यक्रम में जौरा के पूर्व विधायक मनीराम धाकड़, मुरैना जिपं उपाध्यक्ष मानवेन्द्र, श्योपुर मंडी अध्यक्ष काशीराम सेंगर, चीनी कुरैशी, गंगाधर जाटव, बाबू जंडेल आदि मौजूद थे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local