- बाड़े के बाहर लगे कैमरे में ट्रैप में हुआ तेंदुआ

Cheetah in MP: श्योपुर ( नप्र)। कूनो नेशनल पार्क में पिछले तीन माह से बाड़े में वन विभाग के अमले की पकड़ में नहीं आ रहा तेंदुआ आखिरकार बाड़े से निकल गया है। तेंदुए के बाड़े से निकलने की पुष्टि बाड़े के बाहर लगे से सीसीटीवी कैमरे से हुई। तेंदुआ शेष चीतों को बड़े में छोड़ने की राह में रोड़ा बना हुआ था।

17 सितंबर को कूनो नेशनल पार्क में छोड़े गए चीतों को क्वारंटाइन अवधि पूरी होने के बाद बड़े बाड़े में छोड़ने का सिलसिला शुरू किया गया था। तीन चीतों का अलग-अलग बनाए गए बड़े बाड़ों में छोड़ दिया गया था। शेष पांच चीतों को छोड़ने में देरी हो रही थी, इसके पीछे एक तेंदुए के बड़े बाड़े में बने कंपार्ट नंबर-05 ओर 06 में घूमते दिखाई देना भी था। विशेषज्ञों ने खतरा भांपते हुए शेष चीतों को बाड़े में छोड़ना उचित नहीं समझा। कूनो अमले की टीम तेंदुए को बाड़े से बाहर निकालने में जुटी थी। सतपुड़ा से लाए गए हाथियों को भी सहारा लिया गया थ। टीम द्वारा लगातार किए गए प्रयास के बाद आखिरकार शुक्रवार- शनिवार की रात तेंदुआ छलांग लगाकर बड़े बाड़े से निकल गया। शनिवार को जब वन विभाग की टीम ने सीसीटीवी कैमरे चेक किए तो उसमें तेंदुआ बाड़े से निकलते हुए ट्रेप हुआ है।

आज कूनो पहुंचेगी टीम

तेंदुआ बाहर निकलने के बाद मादा चीतों को जल्द ही बड़े बाड़े में छोड़ने की संभावना जताई जा रही है। यही वजह है कि राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण के आइजी अमित मलिक सहित अन्य कई अधिकारी रविवार को कूनो आएंगे। कूनो डीएफओ पीके वर्मा ने बताया कि शेष चीतों को बड़े में छोड़ने का निर्णय चीता टास्क फोर्स के सदस्य करेंगे। उम्मीद है कि पहला मादा चीता 30 नवंबर से पहले ही बाड़े में छोड़ा जा सकता है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close