श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्वच्छता पुण्य का काम है, जिसे जीवन का स्तर बढ़ाने के लिए, एक बड़ी जिम्मेदारी के रुप में हर व्यक्ति को इसका अनुकरण करना चाहिए। स्वच्छता एक स्वस्थ जीवन और लंबी आयु के लिए भी बहुत जरुरी होता है। इसलिए उन्हें अपने बच्चों में साफ-सफाई की आदत भी डालनी चाहिए। यह बात जनशिक्षण संस्थान द्वारा 15 से 30 जुलाई तक चलाए जा रहे स्वच्छता पखवाड़े के समापन पर संस्था के निदेशक अजय सक्सेना ने कही। कार्यक्रम का आयोजन संस्था के कार्यालय केशव नगर में किया गया।

श्री सक्सेना ने बताया कि स्वच्छता पखवाड़े के दौरान संस्थान द्वारा स्वच्छता शपथ, युवा कौशल दिवस, कोविड-19 की दूसरी लहर की रोकथाम के लिए जागरुकता, स्वयं व आस-पास की साफ-सफाई, अपशिष्ट प्रदार्थो का निष्पादन, मास्क निर्माण,निबंध और चित्रकला के माध्यम से स्वच्छता का संदेश दिया। ग्रामीण अंचलों में जैविक खाद, वर्मी कम्पोस्ट, को बनाने के लिए डेमो कराया गया। जिससे लोग जैविक खेती से जोड़ने के लिए प्रेरित किया गया। शौचालय के उपयोग के लिए रैली व बैठक के माध्यम से जागरूक किया गया। जिला प्रबंधक कौशल राजेन्द्र रघुवंशी ने कहा कि स्वच्छता को लेकर आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का जो प्रयास किया गया है, उससे लोगो को स्वच्छ रहने की सीख मिलती है अलग-अलग गतिविधियों के माध्यम से संस्थान ने विशेषकर ग्रामीण अंचलों मे जहां लोगों का रहन सहन का तरीका बिल्कुल भिन्ना होता है वहां जाकर उन लोगो को जागरूक करने का कार्य किया जो सराहनीय है। इस मौके पर आसिफ पठान, कुसुम जादौन, सत्येन्द्र सिंह तोमर, गोविंद शिवहरे, भरत शर्मा सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

3शहर के केशव कॉलोनी में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित लोग।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local