विजयपुर। नईदुनिया न्यूज

एनआरसी में भर्ती कुपोषित बच्चे ने इलाज के दौरान मौत हो गई। बैनीपुरा सेक्टर के सेवापुरा आंगनबाड़ी केंद्र से इस बच्चे को एनआरसी में भर्ती कराया गया था। बच्चे क मौत के बाद स्वजनों ने डॉक्टर पर इलाज करने में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। जबकि डॉक्टर का कहना है, कि बच्चे ने सुबह नाश्ता किया था। इसके बाद मां उसे नहलाने के लिए ले गई थी।

जानकारी के अनुसार सेवापुरा निवासी माया पत्नी रामवीर आदिवासी 1 वर्षीय बालक बबलू को लेकर 25 सितंबर को मायके गोहटा सेक्टर के आंगनबाड़ी केन्द्र शिवलालपुरा में लेकर आई थी। जिसे कुपोषित देख शिवलालपुरा आंगनबाड़ी केंद्र की कार्यकर्ता ने सेक्टर पर्यवेक्षक के जरिए बच्चे को विजयपुर एनआरसी में 1 अक्टूबर को भर्ती कराया था। बच्चा अतिकुपोषित की श्रेणी में था। मंगलवार 12 अक्टूबर को बच्चे की मौत हो गई। बताते हैं कि मां ने उसे नहलाया था उसके बाद ही उसने दमतोड़ दिया। एनआरसी में भर्ती कराने के दौरान बच्चे का वजन 5.540 ग्राम एवं उसकी हाइट 68 सेमी थी। इस मामले में डॉ. जीएस पवार ने बताया कि बच्चे ने नाश्ता किया था उसके बाद बच्चे की मां उसे नहलाने के लिए ले गई इसके बाद हमारे यहां रोती बिलखती हुई आई और बच्चा बेहोश अवस्था मे था। उपचार से पहले ही बच्चे की मौत हो चुकी थी।

वर्जन -

एक बच्चे की एनआरसी में इलाज के दौरान मौत हुई है, जिसकी हम जानकारी ले रहे हैं कि आखिर भर्ती के दौरान ऐसी क्या वजह बनी कि बच्चे की मौत हो गई। इसे दिखवाया जा रहा है और संबंधित आंगनबाड़ी केंद्र की कार्यकर्ता से भी जानकारी ले रहे हैं ।

राघवेन्द्र धाकड़, परियोजना अधिकारी विजयपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local