श्योपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जंगल में मवेशियों के लिए लगाई जाने वाली खिरकाइयों पर बदमाशों की शरणस्थली रहती है, जहां बदमाश शरण लेने के लिए आते है और चंदा वसूली करते है। इसलिए इस बार एसपी ने आलोक कुमार सिंह ने खिरकाइयों की सुरक्षा को लेकर प्लान तैयार किया है। इसके तहत संबंधित पुलिस थाने की टीम हर रोज सर्चिंग के लिए खिरकाइयों पर पहुंचेगी। जबकि थाना प्रभारी हर तीसरे दिन सर्चिंग के लिए स्वयं अपने-अपने क्षेत्र की खिरकाईयों पर पहुंचेगे। ताकि खिरकाईयां बदमाशों की शरणस्थली न बन सके और मवेशी चोरी होने जैसी वारदाते न हो। एसपी के निर्देश के पालन में रविवार को एसडीओपी निर्भय सिंह अलावा के नेतृत्व में पुलिस ने गसवानी, चिलवानी के जंगल में उतरकर सर्चिंग शुरू की।

ज्ञात हो कि बारिश के मौसम बड़ी संख्या में ग्रामीण अपने पशुओं को चराने के लिए जंगल में ले जाते है और जंगल में अपनी सुविधानुसार स्थल पर खिरकाई बनाकर वहां अपने पशुओं का रखते है। इनमें से कई खिरकाईयां बदमाशों की शरणस्थली बन जाती है। आसपास के जिले के फरारी लोग भी फरारी काटने के लिए इन खिरकाईयों पर पनाह लेते है और खिरकाईयों पर रहने वाले पशुपालकों से हथियारों की नोंक न सिर्फ चंदावसूली करते है। बल्कि भोजन-पानी की व्यवस्था भी जुटाते है। जबकि बाहरी जिलो के मवेशी चोर भी मौका पाकर खिरकाइयों से मवेशी हांक ले जाते है। ऐसी स्थितियां कई बार बन चुकी है। इसलिए एसपी आलोक कुमार सिंह ने इन स्थितियों को देखते हुए जंगल में लगने वाली सभी खिरकाईयों पर विशेष नजर रखने की योजना बनाई है। विशेष बात यह है कि जिन खिरकाईयों पर जाने के लिए रास्ते की दिक्कत होगी,वहां भी पुलिस, पैदल ही सर्चिंग के लिए पहुंचेगी। जिले के जंगल में करीब आधा सैकड़ा खिरकाईयां लग रही है। जहां बडी संख्या में मवेशियों को लेकर पशु पालक रह रहे है। खिरकाईयों की सुरक्षा को लेकर एसपी आलोक कुमार सिंह ने जो सुरक्षा प्लान बनाया है,उसके तहत संबंधित थाने का वीट प्रभारी अपने क्षेत्र की खिरकाई पर प्रतिदिन पुलिस टीम को लेकर सर्चिंग के लिए पहुंचेगा। जबकि हर तीसरे दिन थाना प्रभारी स्वयं पुलिस टीम के साथ सर्चिंग के लिए खिरकाई पर पहुंचेगे और पशु पालको से चर्चा करेगे। सभी खिरकाईयों पर संबंधित थाना प्रभारी और वीट प्रभारी के मोबाइन नंबर चस्पा करवा दिए है। ताकि पशु पालक जरूरत लगने पर पुलिस को सूचना देकर बुला सके। इसी क्रम में पुलिस ने जंगल में सर्चिंग करना शुरू कर दिया है।

वर्जन-

आज गसवानी, चिलवानी के जंगल पर पहुंचकर पुलिस ने जंगल सर्चिंग की। साथ ही पशु पालाकों से निडर होकर रहने के लिए समझाइश दी है। पशुपालकों से कहा गया है कि, कोई भी बाहरी व्यक्ति दिखाई दे तो पुलिस को सूचना दें।

निर्भय सिंह अलावा

एसडीओपी, विजयपुर।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close