वार्ड 13-15 में 68.55 लाख से बनी सड़क भी उखड़ने लगी

श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर में आमजन की सुविधा के लिए बनाई जा रही सड़कों की गुणवत्ता पर नगर पालिका के जिम्मेदार अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। वार्ड 7-8 में गुप्ता के मकान से कृष्ण गोपाल शर्मा के मकान तक सीसी सड़क और नाली करीब 30 लाख रुपये की लागत से बनाई जा रही है, लेकिन सड़क बनने के साथ ही गिट्टी उखड़ने लगी है। निर्माण में गुणवत्ता को लेकर शिकायत कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव तक पहुंची है। कलेक्टर अब पिछले डेढ़ साल में बनाई गई सड़कों की जांच कराने जा रहा है।

घटिया काम होने के कारण यह समय से पहले ही उखड़ गई हैं। प्रशासन खराब सड़क बनाने वाले निर्माण एजेंसी पर कार्रवाई की तैयारी कर रहे हैं। टीम बनाकर इन सड़कों की जांच कराई जाएगी। अधिकारी मौके पर जाकर भौतिक सत्यापन करेंगे। गड़बड़ी मिलने पर दोबारा सड़क बनाने के लिए एजेंसी को कहा जाएगा। ऐसा नहीं करने पर ठेकेदार को सड़क की मरम्मत करने के साथ ही उसे ब्लैक लिस्टेड करने की कार्रवाई की जाएगी।

6 महीने में ही उखड़ने लगी सड़क

नगर पालिका ने करीब 6 महीने पहले जयश्री पैलेस वाली गली में सीसी सड़क बनवाई है। सड़क निर्माण में गुणवत्ताहीन सामग्री का उपयोग होने के कारण यहां भी बारीक गिट्टी दिखने लगी है। साथ ही सड़क भी कई जगह से क्षतिग्रस्त हो गई है। ऐसे में लोगों को नई सड़क पर चलने का अनुभव अधिक समय तक नहीं हो पाएगा। बताया जाता है कि उपयंत्री निर्माण के समय मौके पर नहीं गए थे।

डेढ़ साल में बनी सभी सड़कों की होगी जांच

शहर में बनने वाली सड़कों की गुणवत्ता को लेकर कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव अब एक्शन के मूड़ में दिखाई दे रही हैं। यही वजह है कि प्रशासन पिछले डेढ़ साल में बनाई गई सीसी सड़कों की जांच कराने जा रहा है। इसमें नपा के अलावा अन्य विभागों के इंजीनियर व अधिकारी मौके पर जाकर भौतिक सत्यापन करेंगे। निर्माण में गड़बड़ी मिलने पर ठेकेदार को मेंटेनेंस के लिए कहा जाएगा। अगर ठेकेदार ऐसा नहीं करता है तो ब्लैक लिस्टेड सहित अन्य कार्रवाई की जाएगी।

यह सड़कें बनाई गई हैं पिछले डेढ़ साल में

शहर में पॉलीटेक्निक कॉलेज से मॉडल स्कूल तक 60 लाख रुपये की लागत से सीसी सड़क बनाई गई है। इसी तरह कमालखेड़ी से फक्कड़ चौराहे तक 53.49 लाख, फक्कड़ चौराहे से दूध डेयरी तक 68 लाख 55 हजार, ब्लॉक कॉलोनी के अलावा पीएचई स्टोर के पीछे और डॉ. रेखा जैन गली में करीब एक से डेढ़ साल पहले लाखों रुपये खर्च कर सीसी सड़क बनाई गई थीं। रहवासियों के मुताबिक सड़क बनने के दौरान नपा का कोई भी जिम्मेदार अधिकारी इसे देखने के लिए नहीं आया है। ऐसे में सड़क एक साल ही पूरी तरह से उखड़ गई हैं। डॉ. रेखा जैन वाली गली में तो सड़क से रेत-सीमेंट पूरी तरह से गायब हो गया है। अब सिर्फ गिट्टी ही दिखाई दे रही हैं।

वर्जन

शहर में डेढ़ साल में जो सीसी सड़कें बनी हैं, उनकी टीम बनाकर जांच कराएंगे। अधिकारी मौके पर जाकर सत्यापन करेंगे। गड़बड़ी मिलने पर संबंधित अधिकारी और ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

राकेश कुमार श्रीवास्तव, कलेक्टर श्योपुर।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags