श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

जारेला गांव में बिजली कंपनी के जिम्मेदारों की अनदेखी के कारण कभी भी कोई बड़ा हादसा घटित हो सकता है। क्योंकि गांव में लगे कई बिजली पोल न सिर्फ टूट गए है,बल्कि बिजली केबल भी जर्जर हो गई है, कई जगह बिजली केबल घरों की छतों पर बंधी हुई है। ग्रामीणों ने बिजली कंपनी के अधिकारियों से इस स्थिति में सुधार करवाए जाने का अनुरोध किया है।

ग्रामीणों ने बताया कि, जारेला गांव में दो वर्ष से बिजली केबल जर्जर बनी हुई है। जिसकारण गांव की बिजली आए दिन बाधित हो रही है। इससे ग्रामीणों को न सिर्फ गर्मी का कहर झेलना पड रहा है,बल्कि हादसे घटित होने का डर भी सता रहा है। मीणा ने बताया कि बिजली पोल टूटने की बजह से कई घरों पर बिजली केबल छतों से बंधी हुई है, इससे बारिश के दौरान करंट घर में फैलने का खतरा बना हुआ है। इस बारे में कई बार संबंधितों को बता दिया गया,लेकिन संबंधितों ने अभी तक कोई ध्यान नहीं दिया है। मीणा ने जिम्मेदार अधिकारियों से जल्द केवल बदलकर टूटे हुए पोल को गढ़वा कर लाइन दुरुस्त करवाने की मांग की है।

महिला व पुरुष शौचालय बनाने की मांग

श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कस्बे के मुख्य बाजार और चौक-चौराहों पर शौचालयों का अभाव अब लोगों को अखरने लगा है। शौचालय नहीं होने से बाहर से आने वाले लोगों के साथ बाजार आने वाले व्यापारियों और ग्राहकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। लोगों ने इस संबंध में अधिकारियों को आवेदन देकर करियादेह तिराहे पर महिला एवं पुरुषों के लिए प्रथक-प्रथक शौचालय का निर्माण कराए जाने की मांग की है।

ग्रामीणों ने बताया कि कराहल के करियादेह तिराहे पर बसों का संचालन होता है। इसके साथ ही यहीं से विभिन्ना गांवों के ग्रामीण बाजार में खरीददारी करने के लिए पहुंचते हैं। ज्यादातर व्यापारियों की दुकानें भी यहीं हैं। यहां व्यापारियों और ग्रामीणों के साथ बाहर से आने वाले लोगों को परेशानी होती है। सबसे ज्यादा शर्मिंदगी महिलाओं को उठाना पड़ती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close