25 किलोमीटर लंबी बाइक रैली निकालकर शहर में विधायक ने दिया अनिश्चितकालीन धरना

बाइक रैली में सवार कार्यकर्ताओं ने उ़ड़ाई यातायात नियमों की धज्जिायां, शहर में गोलंबर से लेकर मेलाग्राउंड तक लगा जाम

श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

भाजपा सरकार बा़ढ़ पी़िड़तों को मुआवजा देने में भेदभाव कर रही है, जिला प्रशासन भाजपा नेताओं के इशारे पर पात्रों को छो़ड़कर अपात्रों को सर्वे सूची में जो़ड़कर लाभ दिया जा रहा है, जो वास्तविक पी़िड़त लोग हैं उनको तो लाभ नहीं नहीं मिल पा रहा है। यह बात मप्र किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुर्जर ने बुधवार को पटेल चौक पर विधायक के अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कही। कांग्रेस सरकार में जिले के पूर्व प्रभारी मंत्री रहे लाखन सिंह यादव विधायक के धरना प्रदर्शन को संबोधित करने श्योपुर आ रहे थे, लेकिन किन्हीं कारणों से वह नहीं आए। जिससे यह भी चर्चा का विषय बना रहा कि आखिर वह क्यों नहीं आए।

धरना प्रदर्शन में उन्होंने कहा कि, बा़ढ़ में जहां लोग पूरी तरह बर्बाद हो गए हैं, ऐसे में श्योपुर केक्षेत्र में लोगों को सरकार की तरफ से कोई मदद नाम पर कुछ नहीं मिल रहा है। अतिवृष्टि केकारण फसलें पूरी तहर बर्बाद हो गई। ऐसे में किसानों से वसूली की जा रही है। खुद को किसान का बेटा कहने वाले मुख्यमंत्री को किसानों से होने वाली वसूली पर रोक लगाना चाहिए। कांग्रेस जिलध्याध्यक्ष अतुल चौहान ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान इधर-उधर की बात न करे। श्योपुर में बहुत ब़ड़ी आपदा आई है। किसान, व्यापारी, आम लोग पूरी तरह से बर्बाद हो गए हैं। इसलिए श्योपुर के भाजपा नेता सरकार से पी़िड़त लोगों के लिए खजाना खुलवाए। छोटी-मोटी सहायता राशि की घोषणा करने से काम नहीं चलेगा। कांग्रेस पात्र लोगों को वंचित नहीं रहने देगी, उनकेहक की ल़ड़ाई को ल़ड़ती रहेगी। आभार ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मो. चीनी कुरैशी ने व्यक्त किया।

बाबू जंडेल को मोर डूंगरी की जेल नहीं झेल सकतीः विधायक

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए विधायक बाबू जंडेल ने कहा कि किसानों की हित की ल़ड़ाई केलिए 25 साल पहले मेरे पर एफआइआर दर्ज हुई थी, जब मेरी सरकार थी, तब मैं किसानों के लिए जेल गया था। मैं किसानों केलिए जेल तो क्या गोली खाने को भी तैयार हूं। मैं उन बीजेपी के नेताओं से कहना चाहता हूं कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बता दें कि श्योपुर की मोरडोंगरी की जेल बाबू जंडेल को नहीं झेल सकती। बाबू जंडेल के लिए ऐसी जेल बनवानी प़ड़ेगी, जिसमें 10-20 हजार लोगों को रखा जा सके। बाबू जंडेल कोई बकरी का बच्चा नहीं है, जिसे गिरफ्तार कर जेल में भेज दोगे। मेरे साथ पूरे क्षेत्र की जनता है। उन्होंने बा़ढ़ पी़िड़तों केसर्वे में ग़ड़ब़ड़ी की जा रही है। जिस गांव मेवा़ड़ा गांव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी, किसी भी किसान से बिजली बिल की वसूली नहीं की जाएगी, लेकिन दो दिन पहले में उसी मेवा़ड़ा गांव में गया तो पता चला कि किसान ने बिजली का बिल जमा नहीं किया तो उसका ट्रांसफार्मर उठा लिया गया।

विधायक ने कहा कि अगर तीन दिन में समस्याओं का निराकरण नहीं हुआ तो पैदल मार्च निकालकर मुख्यमंत्री निवास का घेराव करूंगा। जब तक क्षेत्र केलोगों की समस्या हल नहीं होगी, तब तक में चैन से नहीं सोऊंगा।

यातायात नियमों का नहीं किया पालन

ब़ड़ौदा से श्योपुर तक निकाली गई 25 किलोमीटर की बाइक रैली में विधायक सहित कई कांग्रेसी नेता चल रहे थे। ब़ड़ी संख्या में पुलिस फोर्स भी मौजूद था, लेकिन कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों ने खुलेआम यातायात नियमों की धज्जिायां उ़ड़ाईं। एक भी बाइक चालक ने हेलमेट नहीं पहना और एक बाइक पर तीन से चार लोग सवार थे। कुछ बाइक ऐसी थीं, जिन पर दो लोग चल रहे थे। यह रैली ब़ड़ौदा केललितपुरा तिराहे से शुरू हुई जो पांडोला, अजापुरा, चंद्रपुरा, गुर्जरगांव़ड़ी होते हुए पुल दरवाजा, गणेश बाजार, मेन बाजार, जयस्तंभ चौक होते हुए पटेल चौक पर पहुंचकर धरना स्थल में तब्दील हुई।

बरसते पानी में डीजे की गा़ड़ी से किया संबोधित

ब़ड़ौदा से चलकर जैसे ही बाइक रैली मेन बाजार होते हुए पटेल चौक धरना स्थल पर पहुंची तो झमाझम बारिश शुरू हो गई। ऐसे में किसान कांग्रेस केप्रदेशध्यक्ष दिनेश गुर्जर, विधायक बाबू जंडेल सहित पदाधिकारियों ने कार्यकर्ताओं व आम लोगों को बरसते पानी में डीजे की गा़ड़ी पर बैठ कर संबोधित किया। वहीं लोगों ने पानी में ख़ड़े होकर भाषण सुने।

शहर में लगा आधे घंटे तक जाम

ब़ड़ौदा से चलकर जैसी विधायक की बाइक रैली गणेश बाजार व मेन बाजार में पहुंची तो वहां जाम लग गया। इसके बाद बाइक रैली धरनास्थल पर पहुंची, यहां कार्यकर्ताओं ने बाइकों को उधर-उधर ख़ड़ा कर दिया, जिससे गोलंबर से लेकर मेला ग्राउंड के सामने तक जाम लग गया। ट्रैफिक पुलिस ने बाइक क़ड़ी मश्कत केबाद वाहनों को निकालकर जाम खुलवाया। जाम लगने से आधे घंटे तक वाहन फंसे रहे, जिससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना प़ड़ा।

-----------------------

भाजपा में दाल नहीं गल रही, वो कांग्रेस से बीजेपी दलालों केनाम पूछ रहेः चौहान

भाजपा नेताओं पर निर्माण कार्य में दलाली केआरोप लगाने पूर्व विधायक बृजराज चौहान ने किया था पलटवार, अब कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने पलवार कर दिया जवाब

श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कांग्रेस जिलाध्यक्ष अतुल चौहान ने भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य व पूर्व विधायक ब्रजराज सिंह चौहान केबयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि लोग पिछले दिनों कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल होने केबाद बीजेपी में अपनी दाल गला नहीं पा रहे हैं। वो कांग्रेस से भाजपा के जगजाहिर दलाल नेताओं केनाम पूछ रहे हैं। चौहान ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बृजराज सिंह के कांग्रेस के द्वारा भाजपा को झूठा बदनाम करने के बयान को हास्यास्पद बताते हुए कहा कि जो बृजराज कांग्रेस में रहकर पूरी श्योपुर की भाजपा नेताओं को माफिया ओर कमीशनखोर बताकर मंचों से संबोधित करते थे, वो आज भाजपा नेताओं केबड़े फिक्रमंद हैं।

जिलाध्यक्ष चौहान ने कहा कि बृजराज सिंह कांग्रेस की जगह आम जनता से भाजपा केनेताओं और उनकी कारगुजारियां पता कर सकते हैं, जिन्होंने हाल में आई बाढ़ में भी राहत के नाम पर पात्र पीड़ितों केमुआवजे व राहत सामग्री पर डाका मिलीभगत से डाला है। उन्होंने कहा कि जिले केविकास को भाजपा नेता कमीशनखोरी से कमजोर कर रहे हैं। समय आने पर कांग्रेस भाजपा नेताओं की जन्म कुंडली खोलेगी। जिलाध्यक्ष ने ब्रजराज पर तंज कसते हुए कि वो खुद भाजपा में अलग-थलग पड़े हैं, उनकी पार्टी में पूछ परख नहीं है। चौहान ने कहा कि कांग्रेस पूरी तरह एकजुट होकर जनता की लड़ाई लड़ रही है। इसलिए ब्रजराज अपनी चिंता करें, कांग्रेस की नहीं।

-----------------

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local