फोटो नंबर 4

श्योपुर। जिला अस्पताल के सभागार में एएनएम, एमपी डब्ल्यू, एमपीएस को क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के तहत डेली डॉट्स एवं एमडीआर टीबी का प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण जिला क्षय अधिकारी डॉ. एसएन बिंदल, डीपीएस यश दीक्षित द्वारा दिया।

प्रशिक्षण में टीबी के संभावित मरीजों के लक्षण, जांच,टीबी के मरीजों में होने वाली विभिन्ना प्रकार की टीबी जैसे सामान्य टीबी/ एचमोनो/पोली टीबी/एमडीआर/आरआर/एक्सडीआर टीबी के बारे में जानकारी दी गई। मरीजों को दी जाने वाली दवाएं एवं दवाएं खिलाने के तरीके एवं टीबी मरीजों टीबी की दवा खाने के दौरान निक्षय पोषण योजना के तहत 500 रुपये प्रतिमाह दी जाने वाली राशि,प्राइवेट डॉक्टर, मेडिकल स्टोर संचालक को टीबी केस को रिपोर्ट करने पर 500 रुपये दिए जाने, टीबी मरीज को दवा खिलाने में सहायता करने एवं अपने समक्ष दवा खिलाने वाले ट्रीटमेंट सपोर्टर (आशा/आंगनवाड़ी कार्यकर्ता) को 1000/ 5000 रुपये की राशि प्रदाय करने आदि की जानकारी दी। डॉ. बिंदल ने बताया कि टीबी एक संक्रामक बीमारी है।

कैप्शन : जिला अस्पताल के सभागार मंें प्रशिक्षण देते डॉ. बिंदल।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस