श्योपुर। नईदुनिया न्यूज

झीलें, नदियां भेल ही जलक गई हो, बादलों ने झड़ी लगाई तो ऐसी की फसलें खराब होने तक नौबत आ गई, लेकिन इसके बाद भी स्थिति यह है कि, भादौ माह में जेठ जैसी गर्मी पड़ रही है। उमस भरी गर्मी ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। सावन महीना पूरे बारिश होने के बाद गर्मी कम होने का नाम नहीं ले रही है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 36.0 एवं न्यूनतम तापमान 26.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

पिछले कुछ दिनों से गर्मी ने जोर पकड़ रखा है, लोग भीषण होती गर्मी से परेशान हैं। दिन में तेज धूप और शाम को उमस ने लोगों का हाल-बेहाल कर रखा है। उमस से परेशान होकर लोग फिर से घरों में कूलर, पंखा, ऐसी चलाने लगे हैं। इस साल पूरे सावन महीने में अच्छी बारिश हुई वहीं भदो में बारिश हो रही है, सिर्फ दो दिन से बारिश नहीं हुई जिसके कारण इनती गर्मी बढ़ गई है। उधर मौसम वैज्ञानिक भी वर्षा के अंतिम दौर में केवल छुटपुट बारिश होने की संभावना बता रहे हैं। भीषण गर्मी के कारण लगतार तापमान में बढ़ोत्तरी हो रही है। पिछले पांच दिनों के तापमान पर नजर दौड़ाई जाए तो अधिकतम तापमान 32 डिग्री से डिग्री तक पहुंच गया है। भादौं माह में पड़ रही भीषण गर्मी के कारण मरीजों की संख्या बढती जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस