श्योपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर में 25 से अधिक मैरिज गार्डन और धर्मशाला हैं। सीजन में रोजाना यहां शादी समारोह हो रहे हैं, लेकिन यहां पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। इससे यहां शादी समारोह के दौरान पूरा शहर परेशान होता है। मैरिज हाउस के बाहर खड़े होने वाले वाहनों से जाम लगता है, जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। खास बात यह है कि इन पर न तो नगरपालिका प्रशासन कार्रवाई कर रहा है और ना ही ट्रैफिक पुलिस कोई कार्रवाई कर रही है।

सुप्रीम कोर्ट ने दिए हैं आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने वर्ष 2011 में आदेश दिया था कि मैरिज हाउसों में पार्किंग बनाना अनिवार्य है। लेकिन इस आदेश के नौ साल बाद भी नगरपालिका प्रशासन और जिला प्रशासन ध्यान नहीं दे रहे हैं, जिससे शादी समारोह होते ही शहर के लोगों की परेशानी बढ़ जाती है।

यहां नहीं है पार्किंग

शहर में गांधी पार्क के पास श्रीराम धर्मशाला, शिवपुरी रोड पर हिंदू धर्मशाला, वृंदावन मैरिज गार्डन, बड़ौदा रोड पर रामद्वारा, बजरंग भवन, सुघरा पैलेस, विजय विलास पैलेस के अलावा शहर में अन्य होटल भी पाार्किंग की सुविधा नहीं हैं।

शहर में बने अधिकतर मैरिज गार्डनों में पार्किंग नहीं है

कहां क्या होती है परेशानी

-माधव मंडप गार्डन के बाहर सड़क पर वाहन खड़े हो जाते हैं, जिससे पाली रोड जाने वाले लोग परेशान होते हैं।

-जयश्री पैलेस के बाहर सड़क पर बाइक व अन्य फोरव्हीलर वाहन खड़े हो जाते हैं। इससे बस स्टैंड व पाली रोड आने वाले लोग परेशान होते हैं।

-सलापुरा में श्रीकृष्ण धर्मशाला के बाहर वाहन खड़े हो जाते हैं, जिससे हाइवे पर आने वाले लोग परेशान होते हैं।

सालभर में एक कार्रवाई नहीं की

नियमानुसार शहर में बिना पार्किंग बनाए संचालित हो रहे मैरिज गार्डन और धर्मशाला संचालकों पर नपा को कार्रवाई करनी होती है, लेकिन नपा ने पिछले एक साल में नियम विरुद्घ मैरिज गार्डन धर्मशाला संचालकों पर कोई कार्रवाई नहीं की है।

पार्किंग नहीं होने से यह भी परेशानी

-मैरिज गार्डन के बाहर बाइक चोरी हो जाती हैं।

-ट्रैफिक जाम के कारण कई बार एंबूलेंस भी नहीं निकल पाती है।

-सड़क पर वाहन खड़े होने से आग लगने पर फायर ब्रिगेड भी नहीं निकल पाती है।

ट्रैफिक पुलिस करेगी कार्रवाई

शहर की ट्रैफिक व्यवस्था सही रखने की जिम्मेदारी ट्रैफिक पुलिस की है, लेकिन ट्रैफिक पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जाती। शादी समारोह के दौरान शाम के समय मैरिज गार्डन और धर्मशाला के बाहर वाहन खड़े करने से ट्रैफिक जाम होता है। अब ट्रैफिक प्रभारी कह रहे हैं कि वे जल्द ही बिना पार्किंग वाले मैरिज हाउस संचालकों को नोटिस देंगे।

फैक्ट फाइल

-17, से अधिक हैं शहर में मैरिज गार्डन।

-15 , से अधिक हैं शहर में धर्मशालाएं।

-शहर में चार मैरिज गार्डन के पास है पार्किंग की व्यवस्था।

वर्जन

शहर में जिन मैरिज गार्डन और धर्मशालाओं के पास पार्किंग नहीं है। इसके लिए हम संचालकों को नोटिस देंगे।

-अखिलेश शर्मा, ट्रैफिक प्रभारी।

वर्जन :

शहर में मैरिज गार्डन संचालकों को पार्किंग के लिए निर्देश दिए हैं, फिर भी अगर किसी ने पार्किंग की व्यवस्था नहीं तो कार्रवाई करेंगे।

-रूपेश उपाध्याय, एसडीएम श्योपुर।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस