श्योपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। नए कृषि कानून के विरोध में भिंड जिले से शुरू की गई प्रदेश व्यापी सेवादल की यात्रा शिवपुरी के पोहरी होते हुए गुरुवार को दोपहर 1 बजे श्योपुर जिले के बॉर्डर के गांव बांसरैया पहुंचनी थी लेकिन, यह यात्रा 7 घंटे बाद रात साढ़े 7 बजे भी निर्धारित जगह पर नहीं पहुंच सकी। ऐसे में आमलोगों के साथ जंगल में खड़े होकर यात्रा के आने का इंतजार कर रहे कांग्रेसियों को मकर संक्रांति के दिन भारी फजीहतों का सामना करना पडा। यात्रा के नहीं पहुंचने की वजह से कई कार्यक्रम भी स्थगित करने पड़े हैं।

यहां बता दें, कि सेवादल के पदाधिकारियों के द्वारा बुधवार को जानकारी दी गई थी कि, सेवादल की यात्रा भिंड जिले से शुरू होकर गुरुवार को पोहरी के रास्ते दोपहर 1 बजे श्योपुर जिले के बांसरैया गांव पहुंचेगी। वहीं चौपाल आदि के कार्यक्रम आयोजित होने के बाद यह यात्रा दूसरे गांवों में पहुंचेगी, आम लोगों से चर्चा करेगी और कराहल में ट्रैक्टर रैली निकालकर नए कृषि कानून का विरोध करेगी। फिर श्योपुर पहुंचकर बड़ा प्रदर्शन करेगी। यह जानकारी मिलने के बाद जिला कांग्रेस कमेंटी के जिला अध्यक्ष अतुल चौहान से लेकर अन्य कांग्रेसी आमलोगों की भीड़ जुटाकर त्योहार के दिन दोपहर 1 बजे से पहले ही बांसरैया गांव पहुंच गए, इसके बाद वह 7 घंटे से ज्यादा समय तक इंतजार करते रहे लेकिन, यात्रा बांसरैया तो दूर डबरा भी नहीं पहुंच सकी थी। ऐसे में जंगल में यात्रा के पहुंचने का इंतजार कर रहे लोग ठंड से ठिठुरते रहे और परेशानियां भी उठाते रहे। उधर सेवादल की यात्रा नहीं पहुंचने के बाद कांग्रेस कमेंटी के जिलाध्यक्ष अतुल चौहान ने लोगों को सफाई देकर बांसरैया में तो चौपाल और रैली-प्रदर्शन का कार्यक्रम भी निपटा दिया लेकिन, रैली के नहीं पहुंचने की वजह से कांग्रेस को लोगों को जबाव देते नहीं बना।

भाजपा को कोसने आ रही यात्रा का उड रहा मजाक

- सेवादल की यात्रा नए कृषि कानून के विरोध में रैली व प्रदर्शन करके आमलोगों में यह संदेश देने के लिए श्योपुर पहुंच रही थी कि, केंद्र की भाजपा सरकार किसान विरोधी कानून पारित करके किसान व आम इंसान की परेशानियां बढ़ा रही है। हाल के माहौल में वह किसान व आम लोगों की संपैथी हांसिल भी कर लेते लेकिन, गुरुवार के सारे कार्यक्रम स्थगित हो जाने के बाद भाजपा की बजाए उल्टा कांग्रेस व सेवादल का मजाक बन रहा है।

वर्जन

- कृषि कानून को लेकर कांग्रेस किसानों को गलत तरीके से भृमित करने का काम कर रही है लेकिन, उन्हें किसी का भी समर्थन नहीं मिल रहा है। क्योंकि, वह लोगों का विश्वास पहले ही खो चुकी है और अब अपनी जमीन तलाशने व राजनैतिक रोटियां सेकने के लिए वह किसान हितैशी योजना को विरोधी बताकर किसानों को गुमराह करने का प्रयास करने के लिए इस तरह की रैली निकाल रही है। इसका उन्हें कोई लाभ नहीं मिलेगा।

सुरेंद्रसिंह जाट

जिला अध्यक्ष भाजपा।

वर्जन

सेवादल की प्रदेश व्यापी जो यात्रा है उसके लिए हमें जिस तरह के निर्देश प्रदेश कांग्रेस कमेंटी से प्राप्त हुए थे। उसके हिसाब से हमने सारी तैयारियां की थी। शाम 5 बजे तक यात्रा नहीं पहुंची तो हमने चौपाल लगाकर और दूसरे कार्यक्रम आयोजित करके किसानों से चर्चा भी कर ली है। किसान भाजपा सरकार के खिलाफ आंदोलित हैं। इस वजह से यात्रा को रैली आदि के लिए उन्होंने रोक लिया था। इस वजह से देरी हुई है।

अतुल चौहान

जिला अध्यक्ष कांग्रेस कमेंटी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस