श्योपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Sheopur News। श्योपुर जिले में 1 जनवरी से 15 नवंबर तक 147 सड़क हादसे हुए हैं। इन हादसों में 35 से अधिक लोगों की जान गई है। जबकि 160 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। यह हादसे ड्राइवरों की गलती से हुए हैं। पुलिस विभाग ने लापरवाह ड्राइवरों पर अंकुश लगाने की तैयार कर ली है। श्योपुर एसपी संपत उपाध्याय ड्राइवरों के लाइसेंस निरस्त करने के लिए आरटीओ को प्रस्ताव भेजने वाले हैं। जबकि ट्रैफिक प्रभारी ने ग्वालियर और राजस्थान आरटीओ को पत्र लिखेगी।

1 एनएच, 4 स्टेट हाइवे निकले

श्योपुर जिले में श्योपुर-मुरैना नेशनल हाइवे 552 के अलावा श्योपुर-बारां, श्योपुर-कोटा, श्योपुर-पाली और श्योपुर-शिवपुरी स्टेट हाइवे निकला है। चूंकि नेशनल हाइवे और स्टेट हाइवे 2 लेन हैं। जबकि वाहनों की क्षमता अधिक है। ऐसे में आए दिन नेशनल और स्टेट हाइवे पर हादसों की संख्या में एकाएक बढ़ गई है।

कार्रवाई हुई तो हादसों में आएगी कमी

ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक हादसों के जिम्मेदार ड्राइवरों के लाइसेंस निरस्त कर दिए तो निश्चित ही सड़क दुर्घटनाओं में कमी आएगी। इसकी वजह लाइसेंस नहीं होने पर ड्राइवर वाहन नहीं चला पाएगा। ऐसे में उसके सामने आर्थिक संकट होगा। जिससे अन्य ड्राइवर सबक लेकर सड़क पर वाहन सुरक्षित तरीके से चलाएंगे। क्योंकि उन्हें डर रहेगा किकहीं घटना हुई तो उनका भी लाइसेंस निरस्त हो जाएगा।

हम सड़क हादसों में आरोपित ड्राइवरों की सूची तैयार कर रहे हैं। इनके लाइसेंस निरस्त करने के लिए आरअीओ को पत्र भेजेंगे। - अखिलेश शर्मा, ट्रैफिक प्रभारी श्योपुर

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस