शिवपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना महामारी की दूसरी लहर शहर के लिए अग्निपरीक्षा के समान रही। दूसरी लहर में करीब सात हजार संक्रमित मिले और 300 से अधिक लोगों ने अपनी जान दे दी। इस दौरान पूरा स्वास्थ्य अमला सिर्फ कोरोना से लड़ने में जुटा रहा और सामान्य व अन्य बीमारियों के मरीजों को थोड़ी परेशानी उठानी पड़ी। अब संक्रमण कम होने के बाद दोबारा से जिले की स्वास्थ्य सेवाएं बहाल होने लगी हैं। फिलहाल करीब 30 मरीज ही कोविड के अस्पतालों में हैं। जबकि जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज मिलाकर कोविड बेड ही 400 से अधिक हैं। मरीजों की कम संख्या को देखते हुए जिला अस्पताल में एक बार फिर इमरजेंसी ओपीडी शुरू होने के साथ ही सर्जरी आदि भी शुरू हो गई हैं। चार दिन पहले इसे लेकर सिविल सर्जन ने आदेश जारी कर दिए थे। हालांकि सर्जरी अभी सिर्फ इमरजेंसी मरीजों की ही की जा रही है और शेष को आगे की तिथि दी जा रही है।

सिविल सर्जन डॉ. राजकुमार ऋषिश्वर ने बताया कि हमने जरूरत को देखते हुए इमरजेंसी ओपीडी भी शुरू कर दी है। इसके साथ ही चिकित्सकों को कहा है कि यदि कोई इमरजेंसी सर्जरी आती है तो वह भी की जाएगी। यदि मरीज की सर्जरी को कुछ दिन के लिए टाला जा सकता है तो उसे आगे की तारीख दी जाएगी। कोविड पीरियड के कारण इसके पहले की भी कई सर्जरी पेंडिंग पड़ी हुई हैं जिन्हें अब किया जाएगा। करीब 50 से अधिक मरीजों को आगे की डेट दी जा चुकी है। यदि इस दौरान कोई इमरजेंसी आती है तो तत्काल सर्जरी कर दी जाएगी। अब इक्विप्मेंट्स आदि के मामले में हम और बेहतर स्थिति में है। चिकित्सकों की डिमांड शासन को भेजी हुई है।

मेडिकल कॉलेज में 15 से श्ुरू हो जाएगी नॉनइमरजेंसी ओपीडी

मेडिकल कॉलेज को कोरोना काल में शुरू किया गया और यहां पर लोगों के अनुभव अच्छे नहीं रहे। यहां भर्ती होने वाले हर तीसरे मरीज की मौत भी हुई जिससे इसकी छवि खराब हुई। हालांकि कई क्रिटिकल केस भी मेडिकल कॉलेज में सही हुए। अब मेडिकल कॉलेज के अस्पताल का सही लाभ मिलना श्ुरू होने जा रही है। यहां पर 15 जून से नॉनइमरजेंसी ओपीडी शुरू की जा रही है। इसके साथ ही यहां पर फेज वाइज फैसिलिटीज शुरू की जा रही हैं। मेडिकल कॉलेज में अधिकांश मशीनरी आ चुकी है। कॉलेज की ओर से सभी अथॉरिटीज को कॉल कर दिया गया है कि इन्हें इंस्टॉल कर दें। जैसे-जैसे इंजीनियर आ रहे हैं फेसेलिटी शुरू हो रही हैं। मेडिकल कॉलेज में अभी अस्पताल और कॉलेज के मिलाकर 75 डॉक्टर्स की टीम है। साथ ही यहां पर जेआर और एसआर मिलकार यह टीम 150 से अधिक लोगों की हो जाती है।

भर्ती प्रक्रिया से लेट हो रहा अस्पताल

मेडिकल कॉलेज में स्टाफ नर्सों की भर्ती प्रक्रिया अब शुरू की गई है। इसके 250 से अधिक पद हैं। इसके लिए परीक्षा हो चुकी है और एमपी ऑनलाइन से रिजल्ट आने के बाद भर्ती शुरू होगी। बिना पैरामेडिकल स्टाफ के अस्पताल शुरू नहीं किया जा सकता है। लंबे समय से अटकी भर्तियां यदि समय पर कर ली जाती तो अभी अस्पताल शुरू होने की स्थिति में आ जाता।

मेडिकल कॉलेज में शुरू हुआ हिस्टोपैथोलॉजिकल परीक्षण

श्रीमंत राजमाता विजयाराजे सिंधिया मेडिकल कॉलेज के पैथोलॉजी विभाग में शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, श्योपुर से प्राप्त होने वाले पोस्टमार्टम उपरांत अंगों की हिस्टोपैथोलॉजिकल परीक्षण आरंभ किया जा चुका है। पैथोलॉजी विभाग अध्यक्ष डॉ. अपराजिता तोमर ने बताया कि पोस्टमार्टम उपरांत प्राप्त हार्ट का परीक्षण अतिआधुनिक उपकरणों की सहायता से किया गया। अब पीएम उपरांत अंगों को हिस्टोपैथोलॉजिकल रिपोर्ट के लिए ग्वालियर भेजने की आवश्यकता नहीं होगी। इसी तरह विभाग में उपलब्ध अत्याधुनिक उपकरणों की सहायता से कैंसर की संपूर्ण जांच जैसे कि एफएनएसी, बायोप्सी, पैपस्मीयर एवं संपूर्ण गठान की जांच मेडिकल कॉलेज के पैथोलॉजी विभाग में उपलब्ध है। हिस्टोपैथोलॉजी सेक्शन में पदस्थ डॉ हेमलता बामोरिया एवं डॉ शिल्पा मोटघरे ने बताया कि छात्रों को प्रशिक्षित करने एवं हिस्टोपैथोलॉजी जांच के लिए अत्याधुनिक पेंटा एवं डेका हेड माइक्रोस्कोप डिपार्टमेंट में उपलब्ध है, जिसमें क्रमशः 5 एवं 10 विशेषज्ञ एक साथ परीक्षण कर सकते हैं। ब्लड कैंसर का पता भी अब विभाग में लगाया जा सकेगा।

इनका कहना है

मेडिकल कॉलेज में अभी फेज वाइज सुविधाएं शुरू की जा रही हैं। जैसे-जैसे मशीनें इंस्टॉल हो रही हैं हम उस यूनिट को शुरू कर देते हैं। 15 जून से नॉनइमरजेंसी ओपीडी भी शुरू कर रहे हैं।

- डॉ. मनबहादुर राजपूत, पीआरओ, मेडिकल कॉलेज।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags