शिवपुरी, नईदुनिया प्रतिनिधि। इंसानों द्वारा जंगली जानवरों को परेशान करने की खबरें आपने कई बार सुनी होगी लेकिन उसका उल्टा जंगली जानवर द्वारा इंसान को परेशान करने की एक आश्चर्यजनक खबर भौंती थाना क्षेत्र के मुहार से सुनने को मिली। यहां के शिवदयाल कुशवाह के मकान में एक बंदर जबरन मेहमान बनकर आ गया। जिसकी वजह से उसका खाना-साेना तक मुश्किल हाे गया।

मामला कुछ इस तरह का है कि भौंती थाना क्षेत्र के मुहार निवासी शिवदयाल कुशवाहा अपने घर का आवश्यक सामान लेने भौंती बाजार गए हुए थे जहां अचानक से एक बंदर आकर उनकी गाड़ी पर बैठ गया बार-बार भगाने पर भी जब बंदर नहीं भागा। तब मजबूर होकर शिवदयाल कुशवाह उसे अपने साथ अपने घर ले गए और यहां से उनकी मुश्किलें शुरू हो गई। बंदर ने लगातार तीन दिन तक ना तो उन्हें चैन से खाना खाने दिया और ना ही सोने दिया। यदि शिवदयाल कुशवाह उसे भगाने की कोशिश करते, तो बंदर उन पर हमला कर देता था। मजबूर होकर शिवदयाल कुशवाहा ने पिछोर फॉरेस्ट विभाग को फोन करके इस घटना की सूचना दी। पिछोर रेंजर अनुराग तिवारी के निर्देश पर रूद्र पुरोहित की अगुवाई में एक रेस्क्यू टीम का गठन किया गया। रेस्क्यू टीम ने जाकर खाने का लालच देकर बंदर को पिंजरे में रेस्क्यू किया व घने जंगल में ले जाकर छोड़ दिया जिससे कि एक प्रताड़ित इंसान को उत्पाती बंदर से मुक्ति मिल सकी। रेस्क्यू टीम में वनरक्षक रुद्र पुरोहित के साथ प्रशांत दांगी, प्रमोद राजपूत, तेज सिंह और गोलू पाठक, इंद्रपाल सिंह की अहम भूमिका रही।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local