शिवपुरी (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

शहर में अवैध कालोनियां धड़ल्ले से काटी जा रही हैं। इसमें कालोनाइजर शुरुआत में तो लोगों को हर तरह की सुविधा के सपने दिखाता है, लेकिन प्लाट या घर बिक जाने के बाद यह सुविधाएं दिखाई नहीं देती हैं। प्रशासन यहां पर आसानी से कोई विकास कार्य कराता नहीं है। यही हाल कई वैध कालोनियों के साथ भी होता है। मंगलवार को नक्षत्र कालोनी में रहने वाले रहवासी अपनी परेशानियों की व्यथा लेकर कलेक्ट्रेट में शिकायत करने के लिए पहुंचे। रहवासियों ने बताया कि यह कालोनी लवलेश जैन उर्फ चीनू ने काटी है, लेकिन यहां मूलभूत सुविधा उपलब्ध नहीं कराई। यहां बिजली सहित अन्य समस्याओं से परेशान है। धर्मेंद्र साहू, गोलू सखलेचा, दीपक दुबे, राहुल धाकड़, सुनील धाकड़, नीतिन शमा्‌र, एके चतुर्वेदी, अशोक शर्मा, जेके गुप्ता ने बताया कि कालोनी में बिजली का वोल्टेज सही नहीं आता, चाहे जब अघोषित कटौती हो जाती है। इस समस्या से हम पिछले 6 वर्ष से जूझ रहे हैं। मामले को लेकर आज से एक माह पहले बिजली विभाग में आवेदन भी दिया था लेकिन हल नहीं निकला। इसलिए हमारी समस्या को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई करवाएं।

शिक्षा विभाग नहीं कर रहा स्कूल की सामग्री जमा

मंगलवार को भरत कुमार भार्गव प्रवाचक, डाइट शिवपुरी पूर्व प्राचार्य शाउमावि मुढेरी ने बताया कि वह अपनी पूर्व संस्था शाउमावि मुढेरी शिवपुरी की शेष सामग्री जमा करना चाहता हूं। इससे पहले 90 प्रतिशत सामग्री संबंधित प्रभारी महावीर दीक्षित को सौंप दी थी। मुझे विभाग से एक पत्र जारी किया गया जिस पर हठधर्मिता का आरोप लगाया गया जो कि गलत है। इसका जबाव भी मैंने दे दिया था। लेकिन इसके बाद कारण बताओ नोटिस दे दिया जिसका जबाव मैंने नहीं दिया। मैंने कई बार कोशिश की लेकिन वहां के प्रभारी प्राचार्य मेरा फोन नहीं उठाते और कहते हैं वरिष्ठ अधिकारी निर्देश देंगे तब वह सामग्री लेंगे। इसलिए मामले में कार्रवाई करवाई जाकर सुनवाई की जाए।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा गोद भराई में प्रसूता को दिया सड़ा हुआ दिया सामान

प्रीतम पुत्र परसादी जाटव निवासी ग्राम भैराना ने बताया कि उसके लड़के उदय की पत्नी भावना जाटव की गोदभराई आंगनबाड़ी में की गई। यहां पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रजनी रावत द्धारा बहू व अन्य महिलाओं को घटिया किस्म का पोषण आहार दिया गया जिसमें नारियल सड़ा हुआ व श्रृंगार का सामान घटिया किस्त का वितरण किया गया। इसलिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

नसबंदी के बाद हो गए दो लड़के, पहुंचे शिकायत करने

जनसुनवाई में शिकायत करने पहुंचे मस्तराम पुत्र राजाराम जाटव निवासी ग्राम कोडावदा तहसील ने बताया कि वह मजदूरी कर अपना व अपने परिवार का जीवनयापन करता है। उसकी पत्नी पिस्ता जाटव का टीटी आपरेशन महिला नसबंदी, स्वास्थ्य एवं परिषद कल्याण विभाग में 17 मार्च 2021 को शिवपुरी में करवाया गया था, लेकिन आपरेशन के बाद पत्नी पुनः गर्भवती हो गई और 3 नवंबर 2021 को जिला अस्पताल में डिलेवरी के दौरान दो बच्चे हुए। मस्तराम ने बताया कि वह पहले से ही परेशान है ऐसे में वह दो बच्चों का पालन-पोषण कैसे करेगा। मस्तराम ने जनसुनवाई में मांग की गई कि जो बच्चे अभी पैदा हुए हैं उनके भरण पोषण, शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रतिमाह दिलवाई जाए।

मारपीट कर 4 बच्चो सहित महिला को घर से निकाला, पहुंची एसपी के पास

एसपी को दिए आवेदन में कृष्णा पत्नी लाखन रजक निवासी गाम तिघरा थाना छर्च ने बताया कि 27 जून को रात में करीब 1ः30 बजे उसके पति लाखन रजक एवं सास मुन्नाी रजक, ससुर आशा रजक कच्ची शराब बना रहे थे। जब मैंने शराब बनाने से इंकार किया तो मेरी व बच्चों की बुरी तरह मारपीट कर दी। जैसे-तैसे मैं अपने बच्चों के साथ जान बचाकर मायके आ गई। महिला ने बताया कि शादी के बाद से ही उसे ससुरालीजन उसे दहेज के लिए परेशान कर रहे हैं और मायके से 1 लाख व बाइक लाने की बात कहते हैं। न देने पर घर में रखने से मना कर रहे हैं। वहीं मेरी नंदे भी मुझे परेशान करती हैं। मैंने मामले को लेकर छर्च थाने में शिकायत की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close