शिवपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर में करीब 3 साल पहले जिला प्रशासन और नपा द्वारा नालों के समीप के अतिक्रमण हटाए गए थे। इस दौरान ठंडी सड़क से भी अतिक्रमण हटाए गए थे और लोगों को करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ था। प्रशासन ने उस दौरान किसी की बात नहीं मानी और पक्के मकानों को जमींदौज कर दिए गए थे। तीन साल बाद लोगों ने एक बार फिर से टूटे हुए मकानों को तो दुरूस्त करा लिया साथ ही जो जमीन खाली कराई गई थी उस पर भी लोगों ने दोबारा मकान या दुकानों का निर्माण शुरू कर दिया है साथ ही बाहर की ओर चबूतरों का निर्माण भी शुरू कर दिया गया है। ऐसे में लोगों का कहना है कि यहां सड़क बनाने के लिए प्लान तैयार किया गया था लेकिन सड़क तो बनी नहीं अतिक्रमण जरूर दोबारा से होने लगे हैं।

2016 में तोडे थे शहर के नालों से अतिक्रमण

वर्ष 2016 में प्रशासन ने नालों के समीप बने मकानों को तोड़ा था इससे नाले चौड़े हो सके और बारिश के पानी का जलभराव शहर में न हो सके। इस दौरान जिला प्रशासन ने किसी की भी नहीं मानी थी और नेताओं से लेकर हर किसी के अतिक्रमण ढहाए थे। अतिक्रमण के दौरान कई बार कार्रवाई के दौरान प्रशासन को लोगों के विरोध का सामना तक करना पड़ा था।

भाजपा नेताओं के भी ढहाए थे अतिक्रमण

जिला प्रशासन ने भाजपा नेता रज्जू गोयल सहित पोहरी के पूर्व विधायक प्रहलाद भारती के भी नालों के किनारे बने मकानों का कुछ हिस्सा हिटैची से ढहाया था। बावजूद इसके प्रशासन को इस दौरान नेताओं की नाराजगी का सामना करना पडा था। लेकिन न तो नालों का चौड़ीकरण हुआ और न ही इन नालों की सही ढंग से सफाई ही की गई।

ठंडी सड़क पर बनना था 10 फीट चौड़ा फुटपाथ

ठंडी सड़क के दूसरी ओर 10 फीट चौड़ा फुटपाथ बनाया जाना था जिससे एक तरफ से दो पहिया वाहनों की आवाजाही हो सके और कोर्ट रोड से वाहनों के कारण लगने वाले जाम से लोगों को निजात मिल सके,लेकिन 3 साल बीत जाने के बाद यहां फुटपाथ का निर्माण तक नहीं हो सका है और लोगों ने एक बार फिर से अतिक्रमण करना शुरू कर दिया है।

नाले किनारे बना रहे दुकानें

जिस ठंडी सड़क के नाले से प्रशासन ने अतिक्रमण हटाया था, वहां लोगों ने दुकानों का निर्माण कर लिया है तो कुछ लोग दुकानों का निर्माण कर रहे हैं। ऐसे में उन लोगों के द्वारा चबूतरे का निर्माण भी कर लिया है। जिससे यहां फुटपाथ बनने की मंशा पर एक बार फिर से पानी फेर दिया है। ऐसे में प्रशासन को इनके विरूद्ध कार्रवाई करना चाहिए।

कोर्ट रोड से हटाए थे अतिक्रमण वह बीच में रह गई सकरी

कोर्ट रोड को 40 फीट चौड़ा करने के चलते यहां से भी प्रशासन ने अतिक्रमण हटाए थे लेकिन कुछ अतिक्रमण हटाने के बाद कुछ लोगों द्वारा न्यायालय से स्टे ले लिया जिसके चलते यहां कोर्ट रोड का निर्माण तो हुआ लेकिन बीच में कुछ जगह सड़क सकरी रह गई है। क्योंकि यहां से अतिक्रमण नहीं हटाए गए थे।

बदहाल हुई ठंडी सड़क

इधर ठंडी सड़क भी बदहाली का दंश झेल रही है। यहां न तो सड़क का निर्माण किया गया जिसके नतीजे में सड़क में गड़्‌ढे हो गए हैं और यहां से सब्जी मंडी तक का रास्ता पूरी तरह से बदहाल हो गया है। लोगों का कहना है कि ठंडी सड़क और दूसरी ओर फुटपाथ का निर्माण हो जाए तो लोगों को आवागमन में परेशानी नहीं होगी लेकिन यहां तो लोग फिर से अतिक्रमण करने में जुट गए हैं।

कई नए मकान भी ढहाए थे अतिक्रमण मुहिम में

ठंडी सड़क से लेकर सब्जी मंडी तक कई नए मकानों का निर्माण लोगों ने किया था लेकिन अतिक्रमण मुहिम के दौरान जिला प्रशासन द्वारा नालों के समीप बनाए गए इन नए मकानों इसमें सरकारी जमीन पर भी निर्माण कर लिया था उस हिस्से को हिटैची से ढहाया था जिससे लोगों को नुकसान का सामना भी करना पड़ा था।

नाले के समीप बना होटल भी आया था कार्रवाई की जद में

नाले के समीप बना एक होटल भी कार्रवाई की जद में आया था। इस होटल के कुछ हिस्से का निर्माण उस दौरान हाल ही में कराया गया था और प्रशासन ने नाले से 10 फीट छोड़कर जो भी मकान या होटल कार्रवाई की जद में आए वहां से अतिक्रमण हटाया था।

कार्रवाई के दौरान बनी थी विवाद की स्थिति

नाले के समीप बने मकानों का अतिक्रमण हटाने के दौरान विवाद की स्थिति बन गई थी जिसके बाद शहर में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया था और पुलिस बल की मौजूदगी में ही प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई को अंजाम दिया था इस दौरान जिले भर से पुलिस बल शहर बुलाया गया था।

कथन

आपके द्वारा मामला संज्ञान में लाया गया है। यदि हटाए गए अतिक्रमणों को दोबारा से निर्माण किया जा रहा है तो हम उसे दिखवाएंगे और जल्द से जल्द अभियान चलाकर इन अतिक्रमणों को हटाया जाएगा।

अनुग्रह पी, कलेक्टर शिवपुरी

फोटो-19 शिव 11

कैप्सन-ठंडी सड़क पर कुछ इस तरह से दुकानों का निर्माण कर बना लिया चबूतरा।

फोटो-19 शिव 12, 13

कैप्सन-अतिक्रमण के दौरान तोडा गया मकान व उसके पास बन रहा पूरा शापिंग कॉम्पलेक्स जिसमें दुकानों का निर्माण किया जा रहा है।

फोटो-19 शिव 14

कैप्सन-अतिक्रमण जिसे जमींदौज किया गया था एक बार फिर से निर्माण कर लिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network