शिवपुरी। मध्यप्रदेश के पावर सेक्टर के इतिहास में नवंबर 2019 का माह मील के पत्थर के रूप में दर्ज हो गया है। नवंबर में राजस्व संग्रह 2017 करोड़ रुपए का हुआ है, जो नवंबर 2018 की तुलना में 413 करोड़ अधिक है। लगभग 26 प्रतिशत अधिक राजस्व मिला है, जो अब तक का प्रदेश का एक माह का सर्वाधिक राजस्व संग्रह है। इसके लिए ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने बिजली उपभोक्ताओं और तीनों विद्युत वितरण कंपनी के स्टॉफ को बधाई दी है।

Posted By: Nai Dunia News Network