बुजुर्ग देंगे पीढ़ियों का ज्ञान, तो माता पिता परवरिश का, बच्चे लिखेंगे लॉकडाउन डायरी

शिवपुरी। पिछले करीब दो महीने से लॉकडाउन के कारण बच्चों की कक्षाएं बंद हैं। हालांकि ऑनलाइन अध्यापन जारी हैं। लेकिन इन सबके बीच बच्चों और उनके अभिभावकों केा प्रोत्साहित करने लॉकडाउन का तनाव कम करने व उनकी क्षमताएं निखारने के लिए राज्य शिक्षा केंद्र ने लॉकडाउन में विभिन्ना प्रतियोगिताओं के आयोजन की रूप रेखा तैयार की है। यह प्रतियोगिताएं 17 मई से चरणबद्ध आयोजित होंगी जो 20 जून तक जारी रहेंगी। इन प्रतियोगिताओं में न केवल बच्चे बलकी उनके अभिभावक, चाचा, चाची और दादा दादी भी अपने अनुभव लिखकर भेज सकेंगे। जिन्हें राज्य स्तर से चुनिंदा आधार पर प्रकाशित किया जाएगा।

6वीं से 12वीं तक के बच्चे और अभिभावक होंगे शामिल

17 मई से प्रति सप्ताह एक विषय पर राज्य स्तरीय इस प्रतियोगिता के आयोजन में दो समूह बनाए गए हैं। पहला समूह कक्षा 6 से 8 तक व दूसरा 9 से 12 तक के बच्चों के माता पिता, चाचा चाची, ताई ताऊ और दादा दादी का होगा जिनके लिए 17 मई से 20 जून तक चरणबद्ध लेख लिखकर प्रविष्ट करने का अवसर मिलेगा। जिनमें कक्षा 6 से 8 तक के समूह को 100 से 150 शब्दों जबकि दूसरे समूह कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों को 200 से 250 शब्दों में अपनी प्रविष्टि देनी होगी।

बच्चे लॉकडाउन पर तो दादा दादी पीढ़ियों पर देंगे ज्ञान

राज्य शिक्षा केंद्र ने इन प्रतियोगिताओं का चरणबद्ध कार्यक्रम जारी किया हैं उस पर गौर करें तो 17 मई से 23 मई तक बच्चों के लिए लॉकडाउन डायरी लिखने का अवसर दिया है। इसमें वे लॉकडाउन अवधि में अपने अनुभव लिखेंगे जबकि 24 से 30 मई तक उनके दादा दादी, नाना नानी, ताई ताऊ, पीढ़ियों का ज्ञान लिखेंगे। जिसमें जीवन के अनुभव सहित वर्तमान कोरोना संकट जैसे वैश्विक संकट का सामना उन्हें करना पड़ा हो उस समय समाज ने उसका सामना कैसे किया यह अनुभव वयां किया जाएगा। जबकि 31 मई से 6 जून तक बच्चों के माता पिता परवरिश को लेकर अपने विचार रखेंगे जिसमें वे लॉकडाउन के समय कैसे उन्होंने अपने बच्चों को शैक्षिक और रचनात्मक गतिविधियों से जोड़ने में सहयोग किया इसका वर्णन करेंगे। इसी तरह 7 जून से 13 जून तक नया हुनर मैने सीखा थीम के तहत लॉकडाउन अवधि में सीखी गई कोई रचनात्मक पारंपरिक गतिविधि, लेखन, अभिनय, चित्रकला आदि का उल्लेख किया जाएगा जबकि पांचवे और आखिरी चरण में 14 से 20 जून तक शिक्षक अपने शैक्षिक नवाचार को लेकर लेख लिख सकेंगे जिसमें वे लॉकडाउन अवधि में नवाचारी शैक्षणिक गतिविधियां, क्षमता संबद्धन में किए गए प्रयासों का वर्णन करेंगे। यह सभी प्रविष्टियां संबंधित फोटो और व्यक्तिगत विवरण के साथ अपने पते व मोबाइल नंबर सहित राज्य शिक्षा केंद्र के सोशल साइट नंबर 9968556947 पर भेज सकेंगे।

यह बोले अधिकारी

लॉकडाउन अवधि में बच्चों के अध्यापन के लिए तो विभिन्ना ऑनलाइन माध्यमों का सहारा लिया ही जा रहा है साथ ही लॉकडाउन में उनके और अभिभावकों अनुभवों को साझा करने के लिए 17 मई से चरणबद्ध विभिन्ना लेख प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही हैं। जिनसे बच्चों और उनके अभिभावकों की विभिन्ना क्षमताएं खुलकर सामने आएंगी।

अंगदसिंह तोमर, बीआरसीसी शिवपुरी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस