करैरा/पिछोर/भौंती (नईदुनिया न्यूज)

शनिवार की रात जिले भर में चली तेज आंधी दो अलग-अलग हादसों में तीन लोगों की मौत का कारण बन गई। एक हादसे में आंधी के कारण टीन शेड एक युवक के सिर पर गिर गई जिससे उसकी मौत हो गई। दूसरे हादसे में आंधी के कारण बचने के लिए सड़क किनारे खड़े हुए दो ग्रामीणों को एक कार ने टक्कर मार दी। हादसे में दोनों युवकों की मौत हो गई।

पहला हादसा भौंती थाना क्षेत्र के ग्राम पिपारा में घटित हुआ। यहां ग्राम पंचायत पिपारा के सरपंच खेमराज लोधी का बेटा दीपेश लोधी शनिवार की रात अपने घर पर टीन शेड के नीचे सो रहा था। इसी दौरान रात को तेज आंधी से टीन निकल कर उसके ऊपर गिरी और उसके सिर के अंदर घुस गई। हादसे में दीपेश गंभीर रूप से घायल हो गया। दीपेश को इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां उसकी नाजुक हालत को देखते हुए उसे झांसी मेडिकल कालेज रैफर कर दिया गया। झांसी पहुंचते-पहुंचते दीपेश ने दम तोड़ दिया। मेडिकल कालेज में डाक्टरों ने दीपेश का परीक्षण करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

दूसरा हादसा करैरा थानांतर्गत डेनिडा रोड पर घटित हुआ। हादसे में दो मजदूरों की एक कार की टक्कर से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि रामप्रकाश पुत्र बारेलाल लोधी निवासी टीला उम्र 37 साल व बलराम पुत्र देवीलाल लोधी उम्र 42 साल करैरा के वार्ड क्रमांक 7 स्थित डेनिडा रोड पर चल रहे निर्माण कार्य का काम पूर्ण करके अपने घर ग्राम टीला जा रहे थे। इसी दौरान रात करीब 9ः30 बजे तेज आंधी आने के कारण वह धूल से बचने के लिए हाईवे पर रोड किनारे खड़े होकर आंधी थमने का इंतजार करने लगे। इसी दौरान आंधी के बीच सड़क पर तेज रफ्तार से आ रही एक कार के चालक ने तेजी व लापरवाही से वाहन चलाते हुए दोनों मजदूरों को टक्कर मार दी। हादसे में दोनों मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई।

आंधी में टूट कर गिरे पेड़, पत्तों की तरह उड़ीं टंकियां

पिछोर के मनपुरा कन्या छात्रावास में तेज आंधी के कारण काफी नुकसान की खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि तेज आंधी में छात्रावास परिसर में खड़ तीन बड़े पेड़ टूट कर जमींदोज हो गए। इन पेड़ों में से एक पेड़ छात्रावास की बाउंड्री पर जा गिरा जिससे बाउंड्री टूट गई, जबकि एक अन्य पेड़ छात्राओं के बाथरूम पर जाकर गिरा, जिससे बाथरूम में नुकसान हुआ है। इसके अलावा छात्रावास की छत पर रखी पानी की टंकियां तेज आंधी के कारण पाइप लाइन को उखाड़ते हुए पत्तों की तरह हवा में उड़ती हुई नजर आई। इस दौरान ड्यूटी पर तैनात चौकीदार प्रेम बाई केवट के अनुसार पेड़ उखड़ कर गिर गए और पानी की टंकियां हवा में उड़ गईं। उसके अनुसार गनीमत यह रही कि घटना के समय कोई छात्रा मौजूद नहीं थी, अन्यथा किसी गंभीर हादसे का अंदेशा था।

आधी रात तक रहा ब्लैक आउट, दिन में भी काटी लाइट

रात को चली आंधी के कारण विद्युत वितरण कंपनी के कर्ताधर्ताओं ने शहर भर में बिजली काट दी, जिसके कारण आधी रात तक शहर भर में ब्लैक आउट के हालात रहे। आधी रात के बाद विद्युत सप्लाई बहाल की गई। इसके अलावा रविवार को दिन में भी रूक-रूक कर दिन भर में कई बार बिजली काटी गई, जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। भीषण गर्मी के कारण लोग लाइट जाने के बाद हाथ का पंखा हिलाते भी देखे गए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close