शिवपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

अभी 15 से 17 वर्ष के बच्चों को चिन्हित कर वैक्सीनेशन किया जा रहा है। इसके अलावा सेकंड डो की ड्यू लिस्ट वाले लोगों से संपर्क कर वैक्सीन लगवाने के लिए जानकारी दी जा रही है। इसके साथ ही हेल्थ वर्कर और फ्रंटलाइन वर्कर आदि के भी बूस्टर डोज लगना है। इसमें अभी 15 से 17 वर्ष के बच्चों का शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराना महत्वपूर्ण लक्ष्‌य है। सभी क्षेत्रों की निगरानी के लिए नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए गए हैं। विकासखंड मेडिकल ऑफिसर, प्रोग्राम ऑफिसर, सेक्टर मेडिकल ऑफिसर, सीडीपीओ, सीएमओ, बीईओ, बीआरसी आदि को जिम्मेदारी दी गई है। ऐसे में शत प्रतिशत वैक्सीनेशन के लक्ष्‌य को प्राप्त करने के लिए पूरी टीम को आपसी समन्वय से काम करना होगा। कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने शुक्रवार को आयोजित बैठक में सभी अधिकारियों को यह निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार को निजी स्कूल में शहरी एवं ग्रामीण दोनों क्षेत्रों के नोडल अधिकारियों, महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारी, समस्त विकासखंड मेडिकल ऑफिसर के साथ बैठक आयोजित की गई। बैठक में निर्देश देते हुए कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने कहा है कि अब डोर टू डोर वैक्सीनेशन की आवश्यकता है। सभी नोडल अधिकारियों को मोबाइल टीम दी गई हैं। मोबाइल टीम के माध्यम से नोडल अधिकारी अपने क्षेत्र में जहां जरूरत है उसके अनुसार टीम को उपयोग करेंगे। इसके अलावा स्थानीय स्तर के अमले के माध्यम से घर घर लोगों से संपर्क कर वैक्सीनेशन कराएंगे। इसके अलावा स्कूलों में भी सत्र रहेंगे, वहां भी बच्चे वैक्सीन लगवा सकते हैं। सभी को समग्र के डाटा के आधार पर सूची उपलब्ध कराई गई हैं,अधिकारियों को इन सूचियों के माध्यम से लोगों से संपर्क करना है और शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराना है। बैठक में पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने भी निदे्‌रश दिए।

बीईओ, बीआरसी और संकुल प्राचार्य निभाएं जिम्मेदारी

कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने कहा कि सभी को समग्र का डाटा अनुसार सूची उपलब्ध करा दी गई हैं। जिले में 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के 1 लाख से अधिक बच्चों को वैक्सीन लगना है। इसमें शिक्षकों और बीएलओ की अहम भूमिका रहेगी। टीम को अपने क्षेत्र में जाकर लोगों से संपर्क कर जानकारी लेनी होगी। सभी बीईओ और बीआरसी को भी मोबाइल टीम उपलब्ध रहेगी। उन्हें मोबाइल टीम का उपयोग अपने क्षेत्र में करना है। इस समय बीईओ, बीआरसी द्वारा दी गई जानकारी में बच्चों के पलायन की जानकारी दी गई है, जो कि बहुत अधिक है इसलिए आप सभी को डोर टू डोर जाकर संपर्क कर सूची को वेरीफाई करना पड़ेगा और जो लोग पलायन कर गए हैं उनकी भी जानकारी एकत्रित करनी होगी उन्हें वैक्सीनेशन लगी है अथवा नहीं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local