टीकमगढ़। (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

ओबीसी आरक्षण के अलावा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के विरोध में प्रदर्शन के साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला दहन को लेकर लिधौरा पुलिस ने जयदीप चढार एवं अन्य के खिलाफ जो धारा 188, 341 भादंवि का प्रकरण पंजीबद्ध किया है, उसे नैतिकता के आधार पर वापस लिया जाए। यदि कांग्रेसियों पर दर्ज मामले वापस नहीं लिए गए तो कांग्रेस पार्टी जिला स्तर पर वृहद प्रदर्शन करने को बाध्य होगी। यह बात प्रदेश के पूर्व मंत्री यादवेन्द्र सिंह ने पुलिस कप्तान को सौंपे ज्ञापन में कही। पूर्व मंत्री श्री सिंह ने कहा कि ओबीसी आरक्षण समाप्त करने के साथ ही त्रिस्तरीय पंचायत के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पुतले का दहन नैतिकता का अधिकार एक विपक्ष की भूमिका में होने के कारण किया गयाथा,लेकिन प्रशासन को यह बात नागवार गुजरी और पुतला दहन करने वाले कांग्रेस पार्टी जिला सचिव जयदीप चढार सहित 12 अन्य लोगों के खिलाफ धारा 188,341 भादंवि के तहत मामला दर्ज कर लिया गया, जो ठीक नहीं है।

पूर्व मंत्री ने कहा कि यही कृत्य भाजपा पदाधिकारियों के द्वारा 23 दिसम्बर 2021 को दोपहर 3 बजे लिधौरा में नगर परिषद कार्यालय के सामने एवं टीकमगढ़ में कलेक्ट्रेट, अस्पताल चौराहा, गांधी चौराहा, आदि स्थानो पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह का पुतला फूंका गया जिनके खिलाफ प्रशासन के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। उन्होंने कहा कि क्या कानून सिर्फ विपक्ष के लिए ही बना है,न्याय सभी के साथ वरावर का होना चाहिए। तथा इस तरह जो द्ववेशपूर्ण कार्रवाई की गई उसे किसी भी कीमत पर वर्दाश्त नही किया जाएगा। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को सौंपे ज्ञापन में कहा कि यदि दर्ज मामले वापिस नहीं लिए गए तो कांग्रेस पार्टी जिला स्तर पर वृहद आंदोलन करने को बाध्य होगी। इस मौके पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष महेश यादव अध्यक्ष, वरिष्ठ कांग्रेस नेता सूर्यप्रकाश मिश्रा, किरण अहिरवार,गौरव शर्मा, संजय नायक,नवीन साहू, महेन्द्र सिंह, संतोष प्रजापति, देवेन्द्र पस्तोर, देवेन्द्र भास्कर ,अशोक अहिरबार, अभय भदौरा उर्फ रिंकू भदौरा, रामकुमारी द्विवेदी, भरत सोनी, प्रत्यूष पाठक, विभोर पाण्डे, संदीप अवस्थी सहित काफी संख्या मंं काग्रेंस कार्यकर्ता मोजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local