टीकमगढ़। नईदुनिया प्रतिनिधि

रविवार को कोरोना के 25 नए मामले मिलने से प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। लिधौरा में जहां कोरोना के 5 मामले सामने आए है वहीं टीकमगढ सहित अन्य विकासखण्डो में 20 नए मामले सामने से जिले में सनसनी फैल गई है। कलेक्टर सहित जनप्रतिनिधियों ने आम लोगों से अपील करते हुए कहा कि वह भीडभाड वाले स्थानों से दूर रहे तथा आवश्यक कार्य होने पर ही अपने घरों से बाहर निकले। कोरोना का आंकडा कम होने के बजाए लगातार बढता ही जा रहा है। वीते दिनो जहां 33 कोरोना संक्रमित मिले थे वही रविवार को यह आकडा बढकर 60 के पार पहुंच गया है। पहले तो जिला मुख्यालय या विकासखण्ड मुख्यालय पर ही कोरोना के मरीज मिल रहे थे। जिले में शनिवार को अचानक कोरोना का विस्फोट हो गया था। वीती गुरूवार को कोरोना से पीडित 3 लोग मिले थे, वहीं निवाडी जिले में भी 3 संक्रमित मिले थे। लेकिन शनिवार को 30 नये संक्रमित मिलने से यह आंकडा 33 पर पहुंच गया था। रविवार को यह संख्या करीब 62 पर पहुंच गई। अचानक ही कोरोना के नये संक्रमितों के मिलने से प्रशासन के अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए। कोरोना के संक्रमित मिलने से जहां प्रशासन के अधिकारी परेशान दिखाई दे रहे है वही आमजनों में भी हायतोवा मची हुई है। इसके वाद भी लोग खुलेआम भीडभाड वाले स्थानों पर घूम रहे है।

कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार संक्रमितों के मिलने के कारण आम जनमानस में भय की स्थिति बनी हुई है। शासन द्वारा भले ही आम लोगों पर प्रतिवंध लगाये गए हो, लेकिन इसका असर किंचित मात्र भी दिखाई नहीं दे रहा है। रविवार को खरगापुर के वार्ड नंबर 9 एवं 7 के अलावा बल्देवगढ विकासखण्ड के ग्राम भेलसी में एक-एक संक्रमित मिलने से ग्रामीण परेशान दिखाई दे रहे है। इसके साथ ही वडागांव धसान अंतर्गत वार्ड नंबर 13 निवासी एक महिला कोरोना से संक्रमित मिली वही राशनखेरा में 2 युवक तथा मौखरा में एक महिला कोरोना से संक्रमित मिली। जैसे ही इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को हुई तो आनन फानन में महिलाओं सहित दोनो युवकों को उनके घर ही आईसोलेट कर दिया गया। इसके साथ ही मौके पर पहुंचे प्रशासन के अधिकारियों ने संक्रमित लोगों की हिस्ट्री खंगालना शुरू कर दी।

वही जिला मुख्यालय पर हास्पिटल के समीप, राजमहल के समीप सहित गनेशपुरा, जेराखेरा, भनेटा, बछोडा, नारगुडा, पुरानी टेहरी, अनंतपुरा, फुटेर चक्र-1 खरगापुर, बडमाडई सहित भितरवार में कोरोना में एक-एक युवक संक्रमित मिलने से ग्रामीण अंचलो में हायतोवा मच गई।

लिधौरा नगर में कोरोना की तीसरी लहर ने पूरी तरह से दस्तक दे दी है, जिसके चलते विगत 8 दिनों से लगातार संदिग्धों की सैम्पलिंग की जा रही है। बताया जाता है कि अभी तक 300 लोगों की जांच हो चुकी है, जिसमें वार्ड नबंर 6 रेंज मुहल्ला में एक,वार्ड नंबर 14 माझ का मुहल्ला में एक,वार्ड नंबर 11 विश्वनाथ चौराहा मुहल्ला में एक, वार्ड नंबर 9 खुशीपुरा मुहल्ला में एक, गंज मोहल्ला में एक सहित एक अन्य युवक कोरोना संक्रमित मिलने पर चार लोगों को लिधौरा के छात्रावास में क्वारंटाइन किया गया है। वही वार्ड नंबर 14 माझ का मुहल्ला निवासी युवक के घर पर उसके माता पिता न होने पर उसे उसके ही घर पर क्वारटाइन किया गया है। इसके साथ ही अन्य लोगो के सेम्पल जांच हेतु भेजे गए है। कोरोना संक्रमितों को तहसीलदार वंदना सिंह ने हिदायत दी गई कि वह किसी अन्य लोगों के सम्पर्क में न आये तथा जहां तक संभव हो अपने घर पर ही रहे। इसके साथ ही उन्होंने थाना प्रभारी को निर्देशित करते हुए कहा कि यदि नगर में कोई व्यक्ति बिना माक्स के मिलता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए।

वाक्स

गंभीरता से नही ले रहे आम लोग

भले ही कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा हो, लेकिन इसके वाद भी आमजन इसे गंभीरता से नहीं ले रहा है। सुबह से लेकर देर रात तक आम लोग बिना माक्स के सडको पर घूम रहे है। इसके साथ ही भीडभाड वाले स्थानों पर भी बिना रोकटोक के प्रवेश कर रहे है। शारीरिक सुरक्षित दूरी का पालन न करने पर संक्रमितो की संख्या लगातार बढ रही है।

वाक्स

बेरीकेट्स व्यवस्था फिर से हुई शुरू

कोरोना वायरस से संक्रमितों के मिलने के कारण संक्रमितों के घर पर बेरीकेट्स की व्यवस्था एक बार फिर से शुरू हो गई है। लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी संक्रमितों के घर के बाहर बेरीकेट्स लगाने में जहां व्यस्त हो गए, वही स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी भी मरीजों की जांच के साथ ही उनको दवाये वितरित करने में लगे हुए है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local