बल्देवगढ़। नईदुनिया न्यूज

ग्राम पंचायत चंद्रपुरा में पंचायत प्रशासन और जनप्रतिनिधियों की अनदेखी के कारण गंदगी का अंबार लगा है। इसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है। गांव में नियमित सफाई नहीं कराए जाने से जगह जगह गंदगी के ढेर लगे हैं और नाले नालियां जाम होने से गंदा पानी सड़क पर बहता रहता है। गंदगी से परेशान ग्रामीण कई बार सरपंच व जिम्मेदार लोगों से शिकायत कर चुके हैं, लेकिन साफ सफाई पर किसी ने ध्यान नहीं दिया है। गांव में गंदगी पसरी होने के कारण मच्छर पनप रहे हैं और संक्रामक बीमारियां फैल रही हैं। बताया गया है कि लोगों द्वारा शिकायत करने के बाद भी सरपंच द्वारा सफाई व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस कारण लोगों को कचरे के ढेरों के ऊपर से होकर निकलना पड़ता है। बरसात के मौसम में स्थिति ज्यादा खराब हो जाती है, क्योंकि कचरे में पानी भर जाने से दुर्गंध आती रहती है। लंबे समय से सफाई नहीं कराए जाने के कारण नाले नालियों की कचरे से अटे हुए है। नालियों में इतना कचरा भरा है कि पानी की निकासी नहीं हो पाती है और घरों का गंदा पानी सड़क के ऊपर होकर बहता रहता है।

गौरतलब है कि जनपद क्षेत्र के ग्राम चंद्रपुरा में जगह जगह गंदगी के ढेर लगे है। नियमित साफ सफाई न होने से ग्रामीणों को कीचड़ में से निकलना पड़ता है। स्कूल पढने वाले छोटे छोटे बच्चे और ग्रामीण परेशान है। ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों और पंचायत प्रशासन पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं। ग्रामीण दिनेश राजपूत ने आरोप लगाया कि ग्राम पंचायत में लाखों रुपए का बजट ग्राम विकास के लिए आने के बावजूद जनप्रतिनिधियों द्वारा ग्राम पंचायत के निवासियों की मूलभूत सुविधाओं को भी पूर्ण करने में रुचि नहीं दिखाई है जिस कारण गांव के रैकवार मुहल्ला, बस स्टैंड, हीरा नगर रोड सहित पूरे ग्राम में नाली के निर्माण और उसके गंदे पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं कराने के चलते जगह कीचड़ फैला हुआ है जिससे लोगों को संक्रमित बीमारी फैलने का अंदेशा बना रहता है व राहगीरों को रास्ते में निकलने में भी असुविधा का सामना करना पड़ता है।

कागजों में राशि का बंदरबांट

ग्रामीण रमेश कुशवाहा व विक्रम अहिरवार ने आरोप लगाया कि शासन द्वारा ग्राम विकास के लिए पर्याप्त राशि भेजी गई है लेकिन जनप्रतिनिधियों द्वारा उसका उचित इस्तेमाल नहीं किया है और सिर्फ कागजों में ही राशि का बंदरबांट कर लिया गया। उनका कहना है कि ग्राम में फैली गंदगी को तुरंत साफ कराए जाने की मांग की है जिससे कि लोगों को संक्रमित बीमारी फैलने से बचाया जा सके। रमेश कुशवाहा ने बताया कि यदि कोई भूल से यहां खड़ा हो भी जाए तो सड़क पर से निकलने वाले वाहन तेज गति से निकलते हुए इस गंदगी से छींटे मार जाता है। जिससे ग्रामीणों को परेशान होना पड़ता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local