पृथ्वीपुर। नईदुनिया न्यूज

निकटतम ग्राम पंचायत नैगुवा के तिलैया बाले गौड बाबा मंदिर पर चल रही संगीतमयी श्रीमद भागवत कथा में वर्णन करते हुये कथा व्यास मदनमोहन दास महाराज ने अमृत कथा का वाचन करते हुये भगवान का स्मरण करने पर विस्तार से वर्णन किया है। धीर समीर आश्रम विन्द्रावन धाम के महंत पूज्य मदन मोहन दास महाराज ने संगीतमयी श्रीमद भागवत कथा के द्वितीय दिवस एक से बढकर एक कृष्ण लीलाओ का वर्णन किया। उन्होंने कहा कि भगवान का स्मरण करने से जहां मन को शांति प्राप्त होती है वहीं हमारा सम्पूर्ण दिनचर्या में अच्छा वातावरण बना रहता है। उन्होंने श्रीमद भागवत पुराण के बारे में बताया कि श्रीमद भागवत पुराण समस्त पुराणों के राजा है समस्त कामनाओं को पूर्ण करने वाला पुराण है, जिसने जिस कामना से श्रीमद भागवत का संकल्प लिया है ऐसे महिमामय पुराण की हम शरण में रहे। भगवान श्रीकृष्ण परम सत्य है इंसान भीतर से नहीं मानता है कि संसार भगवान ने बनाया है सबके साथ सबके सामने कह देते है कि संसार भगवान ने बनाया है संसार में ऐसी कोई चीज नहीं है जो नष्ट न हो। भगवान को हमने देखने का प्रयास नहीं किया। इसलिये नहीं दिखते है जिस दिन हम निष्ठा और प्रेम से भगवान को देखना चाहे तो देखा जा सकता है। संसार में जितना प्रेम है उससे आधा भी प्रेम अगर भगवान से हो तो भगवान के दर्शन अवश्य होगे। भागवत कथा के आयोजक पण्डित ब्रजकिशोर पाठक एवं संयोजक राजेन्द्र प्रसाद पाठक के द्वारा भागवत महापुराण का विधिविधान के साथ पूजन अर्चन किया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close