बल्देवगढ़। नईदुनिया न्यूज

तहसील क्षेत्र के 80 प्रतिशत साक्षर ग्राम बेसा में 72 घंटे से अंधेरा छाया है। तहसील क्षेत्र के ग्राम बेसा में पिछले 72 घंटों से डीपी जल जाने के कारण अंधेरा छाया हुआ है ,लेकिन विद्युत वितरण कंपनी के कर्मचारी सूचना देने के बाद भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। गांव के निवासी संजय शास्त्री व राघवेंद्र सिंह ने बताया कि वैसा ग्राम में पिछले 3 दिनों से डीपी जल जाने के कारण ग्रामवासी अंधेरे में रहने को मजबूर है जबकि पिछले दो दिनों से लगातार बारिश के चलते और घरों में अंधेरा होने के कारण लोगों को कीट पतंगों के काटने का भय सता रहा है।

लोगों का कहना है कि ग्राम में बिजली न होने के कारण लोगों के घर आटा तक नहीं बचा हुआ है और उन्हें गेहूं पिसबाने के लिए नजदीक ग्राम जाना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले एक माह से ग्राम की विद्युत व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है और 24 घंटे में सिर्फ 5 से 6 घंटे ही बिजली मिलती है और तो और लोगों के मोबाइल तक चार्ज नहीं हो पा रहे हैं और नजदीकी ग्राम जाकर मोबाइल चार्ज करना पड़ रहे है। 12वीं कक्षा का छात्र सत्यम मिश्रा का कहना है कि पिछले दो वर्षों से कोरोना के कारण विद्यालय नियमित रूप से संचालित नहीं हो पा रहे थे, अब उन्हें लग रहा था कि इस बार वह अच्छे से अपनी तैयारी करेंगे जिससे बोर्ड परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकें, लेकिन पिछले तीन दिनों से गांव में विद्युत न होने के कारण उन्हें पढ़ाई में व्यवधान उत्पन्ना हो रहा है। उन्होंने अधिकारी व कर्मचारियों से शीघ्र गांव की विद्युत व्यवस्था दुरुस्त किए जाने की मांग की है। इस संबंध में विद्युत वितरण कंपनी के एई रामनिवास गुर्जर का कहना है, मुझे वैसा गांव में तीन दिन से ट्रांसफार्मर जल जाने की कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है मैं पता करता हूं शीघ्र ही वैसा ग्राम की विद्युत व्यवस्था को दुरस्त कराई जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local