टीकमगढ़(नईदुनिया प्रतिनिधि)

विधानसभा चुनाव के समय कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में उल्लेख किया था कि सत्ता संभालने के बाद पेंशनरों की मांगों का निराकरण किया जाएगा। चुनाव के बाद सरकार पेंशनरों को भूल गई। पेंशनर अपनी मांगों के निराकरण के लिए परेशान हो रहे है। जिला पेंशनर एसोसिएशन के अध्यक्ष रहमान खान के नेतृत्व में बीते रोज प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम पेंशनरों ने कलेक्टर हर्षिका सिंह को ज्ञापन सौंपा। सौपे ज्ञापन में उल्लेख किया गया कि उन्हें 7वें वेतनमान का लाभ नहीं दिया जा रहा है,साथ ही 27 माह का एरियर्स भी नहीं दिया गया, जबकि वह उसके हकदार है। इसके अलावा सभी पेंशनरों को केन्द्र के समान एक हजार रुपया प्रतिमाह चिकित्सा सहायता भी प्रदान की जाए। श्री खान ने सौंपे ज्ञापन में कहा कि प्रदेश के पेंशनरों की पेंशन 80 वर्ष की आयु में 20 प्रतिशत की बढोत्तरी की जाती है उसके स्थान पर 70 वर्ष की आयु में यह बढोत्तरी की जाएगी।

एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री खान ने सौंपे ज्ञापन में कहा कि मध्यप्रदेश तथा छत्तीसगढ़ पुनर्गठन अधिनियम की धारा 49 को विलोपित किया जाए। साथ ही 6वें वेतनमान अंतर्गत न्यायालयीन निर्णय के अनुरूप समस्त पेंशनरों को 32 माह का एरियर्स 6 प्रतिशत ब्याज के साथ दिया जाए। वही प्रदेश के नियमित कर्मचारियों की तरह पेंशनर्स को भी पचास हजार रुपया उपादान राशि दी जाए। इस मौके पर डीपी शुक्ला, आरएस तिवारी, सीएल रजक, जीडी सिंह, एमएल दीक्षित, बीके सोनकिया, पीएलअहिरवार सहित काफी संख्या में पेशनर मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket