बल्देवगढ़। नईदुनिया न्यूज

नगर में तीन दिनों से जलावर्धन योजना के ट्रांसफार्मर पर आकाशीय बिजली गिरने के कारण पानी सप्लाई बाधित होने से नगरवासी एक-एक बूंद के लिए तरस रहे हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार बल्देवगढ़ नगर में करोड़ों रुपए की लागत से जलावर्धन योजना की शुरुआत लगभग तीन साल पूर्व की गई थी और लोगों को लगने लगा था कि उन्हें साफ शुद्ध पानी नसीब होगा, लेकिन कुछ दिनों में ही जलावर्धन योजना से जो पानी सप्लाई किया जाता है वह पूरी तरह गंदा एवं बदबूदार रहता है, जिसकी शिकायत कई बार वार्डवासियों ने नगर परिषद से की, लेकिन जलावर्धन योजना के ठेकेदार की मनमानी के चलते नगर के लोग गंदा पानी पीने को मजबूर हैं, वहीं फिल्टर प्लांट के पास लगे ट्रांसफार्मर पर रविवार को आकाशीय बिजली गिरने से नगर की पानी सप्लाई इन दिनों से पूरी तरह से बंद हो गई है। लोगों का आरोप है कि जलावर्धन योजना के ठेकेदार द्वारा अगर सही समय पर ट्रांसफार्मर बदल दिया गया होता तो लोगों को एक-एक बूंद के लिए जद्दोजहद नहीं करना पड़ती और पानी की सप्लाई तीन दिन तक बंद नहीं रहती। वार्डवासियों का कहना है कि पिछले एक पखवाड़े से नलों में गंदे व बदबूदार पानी की सप्लाई होने के कारण लोगों को चर्म रोग की शिकायत होना प्रारंभ हो गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जलावर्धन योजना के ठेकेदार का नगर परिषद पर करोड़ों रुपया बकाया निकल रहा है, लेकिन नगर परिषद की वित्तीय हालत खस्ता होने के कारण उसका पेमेंट नहीं हो पा रहा है। इस कारण ठेकेदार द्वारा पानी की सप्लाई की निर्बाध रूप से नहीं की जा रही है। इस संबंध में सीएमओ बालकिशन पटेल का कहना है कि रविवार को जलावर्धन फिल्टर प्लांट के ट्रांसफार्मर पर आकाशीय बिजली गिरने के कारण नगर में पानी की सप्लाई बाधित हुई है। संभवता ठेकेदार द्वारा जनरेटर की व्यवस्था की गई है। शाम तक पानी की सप्लाई सुचारू रूप से की जाएगी और रही बात नलों में गंदा पानी आने की बात तो मैं इस संबंध में ठेकेदार से बात करता हूं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close