टीकमगढ़ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे स्टेशन का नजारा ही कुछ और है, यहां टिकट काउंटर पर मची मारामारी और यात्रियों को होने वाली परेशानियों से रेलवे के आला अधिकारी से लेकर जनप्रतिनिधि तक बेखबर बने हुए हैं। रेल सेवा को बेहतर बनाने के दावे जहां खोखले साबित होते आ रहे हैं। वहीं स्टेशन पर सुविधाओं के नाम पर कुछ न किया जाकर यात्रियों की परेशानियों को लगातार बढ़ाया जा रहा है। यात्रियों की मानें तो रेलवे प्रबंधन ही यात्रियों को बिना टिकट यात्रा करने को मजबूर कर रहा है। हालात यह हैं कि यात्रियों को घंटों लाइन में लगने के बाद भी टिकट नहीं मिल रहा है और अंततः वह बिना टिकट लिए ही यात्रा कर रहे हैं। यहां बने टिकट काउंटर बंद पड़े होने और मात्र एक काउंटर ही खुलने के कारण टिकट लेने में यात्रियों को भारी असुविधा हो रही है और टिकट काउंटर पर लंबी कतार लगी हुई देखी जा सकती है। महिलाओं और पुरूषों के लिए एक ही काउंटर चालू है।

गौरतलब है कि वर्तमान में टीकमगढ़ रेलवे स्टेशन से नौ ट्रेनें गुजर रही हैं। ट्रेनों के आने के दौरान टिकट काउंटर भले ही बंद किया जाता हो, लेकिन इसके पहले ही काफी लंबी कतार टिकट काउंटर पर देखी जा सकती है। ऐसे में लोगों को टिकट ही नहीं मिल पाता है। कई बार तो यात्रियों में आपस में ही टिकट को लेकर झूमाझपटी हो जाती है। बताया गया कि बुकिंग खिड़की सभी बंद होने के कारण यहां आने वाली महिलाओं और पुरूषों को एक ही खिड़की से टिकट लेना पड़ रही है, इतना ही नहीं यहां विकलांग यात्रियों के लिए भी खास सुविधा नजर नहीं आ रही है। यात्रियों की मानें तो यहां टिकट लेने के लिए घंटों खड़े रहने के बाद भी यात्रियों को टिकट नहीं मिल पाती है और अंततः लोगों को बिना टिकट ही यात्रा करने के लिए मजबूर होना पड़ता है। कई बार तो यात्रियों की ट्रेन तक छूट जाती है।

रेलवे स्टेशन पर तीन खिड़कियां बंद

ललितपुर-खजुराहो लाइन पर पड़ने वाली टीकमगढ़ एक मात्र बढ़ा स्टेशन है, जहां से रेलवे प्रबंधन को ठीक-ठाक राजस्व मिलता है। लेकिन यहां भी प्रबंधन की उदासीनता के चलते अधिकांश लोगों को चाहकर भी टिकट नहीं मिल पाता और उन्हें बिना टिकट यात्रा करना पड़ती है। देखा जा रहा है कि अधिक भीड़ के कारण यहां यात्रियों में ट्रेन का समय होते ही धक्का-मुक्की होने लगती है। जैसे ही यहां रेल आती है और यात्री खिड़की छोड़कर ट्रेन की ओर भागने को मजबूर हो जाते हैं। ऐसा ही कुछ आज हुआ, जैसे ही ट्रेन स्टेशन पर आई कि अधिकांश यात्री बिना टिकट लिए ही ट्रेन की ओर भाग निकले। झांसी रेलवे मंडल के पीआरओ मनोज कुमार ने बताया कि इस संबंध में डीआरएम को अवगत कराया जाएगा। यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आगे कार्रवाई होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close