ओरछा। नईदुनिया न्यूज

पर्यटन विभाग मप्र शासन मप्र टूरिज्म बोर्ड भोपाल द्वारा प्रदेश में होमस्टे संस्कृति के प्रचार-प्रसार पर्यटकों को स्थानीय संस्कृति, परिवेश का अनुभव प्रदान करवाने, स्थानीय स्तर पर रोजगार के नवीन अवसर को सृजित करने के उद्देश्य से होमस्टे संबंधी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। ओरछा में होमस्टे योजना की जानकारी एवं महिलाओं के लिए सुरक्षित पर्यटन स्थल की जानकारी दिए जाने के लिए बुधवार को को पर्यटन नगरी ओरछा के होटल बेतवा रिट्रीट में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में लगभग 100 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया, जिसमें पुलिस विभाग, शिक्षा विभाग,राजस्व, आदिम जाति कल्याण विभाग, ग्रामीण विकास, जिला पुरातत्व,पर्यटन एवं संस्कृति परिषद ओरछा, नगरीय प्रशासन के अधिकारी के अतिरिक्त स्थानिय टूर एंड ट्रेवल्व एसोसिएयन के प्रतिनिधि, होटल इंडस्ट्री के प्रतिनिधि, गाइड एसोसिएयन के प्रतिनिधि, कृषक, होमस्टे संचालक, स्थानिय स्वयंसहायता समूह की महिलाएं महिला ई रिक्शा चालक एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। कार्यशाला का आयोजन मप्र टूरिज्म बोर्ड भोपाल मप्र राज्य पर्यटन विकास निगम भोपाल जिला पुरातत्व पर्यटन एवं संस्कृति परिषद ओरछा के सहयोग से किया।

कार्यशाला में पुलिस अधीक्षक तुषारकान्त विद्यार्थी ने कहा कि ओरछा को महिलाओं हेतु सुरक्षित पर्यटन स्थल बनाने में पुलिस विभाग एवं अन्य सभी विभाग द्वारा मिल कर कार्य किया जाएगा। इस परियोजना के क्रियान्वयन में स्थानीय समुदाय की सक्रिय भागीदारी की आवश्यकता होगी। ओरछा में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय महिला पर्यटक आते है हम सभी की यही कोशिश होनी चाहिए की उन्हें भयमुक्त वातावरण देकर उन्हें सुखद अनुभव की अनुभूति कराए। अपर कलेक्टर एसके अहिरवार ने कहा कि इस परियाजन से ओरछा में पर्यटकों की संकया में वृद्धि होगी, महिलाओ को रोजगार मिलेगा एवं महिलाएं आत्मनिर्भर बन सकेगी।

प्रशांत छिरोल्या सलाहकार मप्र टूरिज्म बोर्ड ने शासन की होमस्टे योजना, फार्मस्टे, ग्रामस्टे एवं बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना के माध्यम से पंजीयन की प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी दी। इसके अतिरिक्त उपस्थित लोगों की होमस्टे संबंधी समस्याओं की शंकाओं का समाधान किया। साथ ही योजना के अंतर्गत पर्यटन विभाग द्वारा प्रदान किए जा रहे वित्तीय प्रावधान एवं तकनीकी सहायता की विस्तृत जानकारी दी। श्री छिरोल्या ने बताया कि वर्तमान में कोविड 19 की विपरीत परिस्थितियों के कारण होमस्टे की प्रासंगिकता अधिक होने के कारण योजना से जुडकर अधिक लाभ ले सकते हे। वर्षा सिंह सलाहकार मप्र टूरिज्म बोर्ड कार्यशाला में महिलाओं हेतु सुरक्षित पर्यटन स्थल परियोजना की विस्तृत जानकारी दी गई। उक्त परियोजना का संचालन चरणबद्ध तरीके से आगामी 3 वर्षो में 50 पर्यटन स्थलों में किया जाएगा, जिसके अंतर्गत प्रशिक्षण एवंक्षमता निर्माण,महिलाओं की सुरक्षा के प्रति समाज में जागरूकता सृजन, आत्मरक्षा प्रशिक्षण का कार्य किया जाएगा। साथ ही पर्यटन स्थलों का सुरक्षा अंकेक्षण, अधिक से अधिक संख्या में कार्यशील महिलाओं की उपस्थिति सुनिश्चित कराना, महिला पर्यटकों को आवश्यक जानकारियां एवं सूचनायें उपलब्ध कराना एवं सहयोग आदि गतिविधियां संपादित की जाएगी। रचना सिंह तकनीकी सलाहकार यूएन वूमेन द्वारा परियोजना के सुचारु कियान्वयन के संबंध में जानकारी दी गई रणनीति के संबंध मे जानकारी दी गई। महिलाओं के लिए सुरक्षित पर्यटन स्थल परियोजना के लिए सुरक्षित पर्यटन परियोजना के तहत हुए जिला स्तरीय उन्मुखीकरण कार्यक्रम में इस आशय के विचार वरिष्ठ अधिकारियों और पर्यटन से जुडे? वाक्ताओं ने व्यक्त किए।

कार्यशाला में एसपी तुषारकान्त विद्यार्थी, एसण्के अहिरवार अपर कलेक्टर, प्रताप सिंह खेंगर सीएमओ ओरछा, पियूष बाजपेयी उपयंत्री मप्र राज्य पर्यटन विकास निगम ओरछा, एचएस दंडोतिया सुखसागर अवस्थी बेतवा रिट्रीट मप्र राज्य पर्यटन विकास निगम ओरछा, घनश्याम बाथम पुरातत्व विभाग, रचना सिंह यूएन वूमेन सलाहकार, प्रशांत छिरोल्या सलाहकार कौशल मप्र, टूरिज्म बोर्ड भोपाल, वर्षा सिंहए सलाहकार टूरिज्म मप्र टूरिज्म बोर्ड भोपाल, अवनी मोहन सिंह हरितिका संस्था प्रमुख एवं मनोज नायक हरितिका संस्था प्रतिनिधि अतिथि एवं वाक्ता के रूप में मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local