Agnipath Scheme: उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। माधवनगर पुलिस ने दो दिनों में अग्निपथ योजना को लेकर विरोध करने का मैसेज इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट करने वाले सात लोगों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां जेल भेज दिया है। सोमवार को भी पुलिस ने शहर में फ्लैग मार्च निकाला। दशहरा मैदान पर सेना में जाने की तैयारी करने वाले युवाओं को समझाइश भी दी।

रविवार रात को कुछ युवाओं द्वारा 21 जून को टावर चौक पर विरोध प्रदर्शन करने के लिए आने का मैसेज पोस्ट किया गया था। इस पर माधवनगर पुलिस ने विकास पारेगी निवासी ग्राम पालखेड़ी चिंतामन जवासिया, अशोकसिंह गुर्जर निवासी गुर्जर मोहल्ला खाचरौद को गिरफ्तार किया है।

शुभम यादव निवासी ग्राम लिम्बादित माकड़ोन, लाखन शर्मा निवासी पालदूना तराना, सुनील यादव निवासी तेजलाखेड़ी माकड़ोन, रंजितसिंह निवासी झालावाड़ राजस्थान, रोहन सिसौदिया निवासी मक्सी को मैसेज करने पर गिरफ्तार कर धारा 151 के तहत जेल भेज दिया था।

देवास में माहौल खराब करने के आरोप में तीन युवक हिरासत में

- अग्निपथ के विरोध में चक्काजाम की थी योजना, पुलिस ने की विफल

देवास (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अग्निपथ योजना के विरोध में देवास में माहौल खराब करने की साजिश रचने के आरोप में पुलिस ने तीन युवाओं को मामला दर्ज कर हिरासत में लिया है। इंटरनेट मीडिया के माध्यम से 22 जून को एकत्रित होकर बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर चक्काजाम करने और ज्यादा से ज्यादा युवाओं को इसमें भाग लेने के लिए उकसाया जा रहा था।

केस एक - बीएनपी थाना क्षेत्र के गांव निपानिया निवासी 19 वर्षीय अंकित देवड़ा और इसी गांव के 21 वर्षीय सोहन हरिया देवास के आवास नगर गेट के पास रविवार रात मोबाइल से अग्निपथ योजना को तत्काल बंद करने को लेकर पोस्ट डाल रहे थे। इसमें वे अन्य युवाओं को 22 जून को देवास में आइटीआइ ग्राउंड पर इकट्ठा होकर बस स्टैंड एवं रेलवे स्टेशन पर चक्काजाम करने के लिए उकसा रहे थे। पुलिस सक्रिय हुई और अंकित और सोहन को हिरासत में लिया। उनसे मोबाइल जब्त किए गए हैं।

केस दो - औद्योगिक थाना क्षेत्र में बीराखेड़ी निवासी 19 वर्षीय तेजकरण उर्फ करण दांगी मोबाइल से योजना के विरोध में पोस्ट डाल कर शहर में महाआंदोलन चलाने के लिए युवाओं को कह रहा था। पुलिस ने आरोपित को रविवार रात उसके घर से पकड़ा। उसे कलेक्टर द्वारा जारी किए गए आदेश का उल्लंघन करने का दोषी पाया गया है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close