उज्जैन। महाकाल मंदिर क्षेत्र से शनिवार को टीन शेड की बनी 12 अवैध दुकानें हटा दी गईं। कार्रवाई हंगामे और विरोध के बीच महाकाल मंदिर प्रबंध समिति और नगर निगम ने संयुक्त रूप से की। पूरी कार्रवाई का होमगार्ड की एक महिला अधिकारी ने नेतृत्व किया। उन्होंने व्यवसायियों का आक्रोश झेला। सैकड़ों के बीच घिरी रहीं फिर भी ना घबराईं और ना पीछे हटीं। दुकानें तुड़वाकर ही उन्होंने दम लिया।

माधवसेवा न्यास की पार्किंग के सामने बने मकानों के आगे कुछ लोगों ने अपनी जद से 15 से 20 फीट आगे तक शेड डालकर दुकानें लगा ली थीं। इससे महाकाल मंदिर पहुंच मार्ग बहुत संकरा हो गया था। श्रद्घालुओं को पैदल आने-जाने में भी परेशानी होने लगी थी। मामला संज्ञान में लेकर मंदिर प्रबंध समिति ने शनिवार को नगर निगम की गैंग और माधवनगर पुलिस का बल बुलवाया एवं एक-एक कर 12 दुकानें जेसीबी से तोड़ दीं। जिन दो दुकानदारों ने काफी विरोध किया, उन्हें चौबीस घंटे में अपना सामान हटाने की चेतावनी देकर टीम लौट गई। पूरी कार्रवाई में एक महिला होमगार्ड अधिकारी रूबी यादव अकेले ही भीड़ को काबू में करती, व्यवसायियों का विरोध झेलती नजर आईं। पुलिसकर्मी मूक दर्शक बने तमाशा देखते रहे। विरोधियों का यह भी कहना था कि हमारी दुकान हटा रहे तो माधवसेवा न्यास की भी हटाओ।

खुलेआम बिक रही थी तलवार

जिन दुकानों को निगम ने तोड़ा, उसमें से एक दुकान में खुलेआम तलवारे बिक रही थीं। महाकाल थाना पुलिस ने कुछ तलवारें जब्त भी की है, लेकिन देर शाम तक किसी के खिलाफ केस दर्ज नहीं हुआ।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket