Coronavirus Ujjain News : उज्जैन।(नईदुनिया प्रतिनिधि)। चिमनगंज पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में एक आरोपित को गिरफ्तार किया था। तीन दिन के पुलिस रिमांड के बाद उसे जेल भेजने से पहले कोरोना टेस्ट करवाया गया था। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

इसके बाद भी तीन दिन पूछताछ करने वाले पुलिसकर्मियों की ड्यूटी महाकाल सवारी में लगा दी गई। वहीं पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन तक नहीं किया गया। मंगलवार को भी पुलिसकर्मियों की जांच रिपोर्ट नहीं आई। 70 वर्षीय वृद्घ पर वर्ष 2013 में धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ था। उसके बाद से ही आरोपित की तलाश की जा रही थी।

पांच दिन पूर्व आरोपित को कोर्ट ने रिमांड पर पुलिस को सौंपा था। रिमांड अवधि खत्म होने के बाद पुलिस ने उसे जेल भेजने से पहले कोरोना टेस्ट करवाया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद थाने में हड़कंप मच गया था। रिमांड लेने वाले एसआई रवींद्र कटारे सहित पांच पुलिसकर्मियों ने जांच के लिए सैंपल दिए थे। इसके बाद भी भारी लापरवाही बरतते हुए सोमवार को पुलिसकर्मियों की ड्यूटी महाकाल सवारी में लगा दी गई थी। मंगलवार को भी पुलिसकर्मियों की जांच रिपोर्ट नहीं आई।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020