उज्जैन। ऑनलाइन क्रिकेट गेम ड्रीम इलेवन खेलने के लिए इंजीनियरिंग के छात्र ने अपनी मां के बैंक खाते से 2.69 लाख रुपए गायब कर दिए। पेटीएम से छोटे-छोटे ट्रांजेक्शन कर तीन माह तक मां को चूना लगाता रहा।

आरोपित के पिता बिजली कंपनी में कार्यपालन यंत्री (ईई) हैं। राज्य सायबर सेल में शिकायत के लिए मां-बाप के साथ बेटा भी आया था। बैंक स्टेटमेंट तक खुद निकाल कर लाया था। जांच में मालूम पड़ा कि ये करतूत बेटे की है। इस पर मां-बाप ने अधिकारियों से कहा कि उसे जेल भेज दें, हमें ऐसा बेटा नहीं चाहिए। पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया। यहां से उसे जेल भेजने के आदेश हुए।

राज्य सायबर सेल टीआई नरेंद्र गोमे ने बताया कि मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में ईई संदीप कालरा ने शिकायत की थी कि उनकी पत्नी रानी कालरा के बैंक खाते से किसी ने 2.69 लाख रुपए गायब कर दिए हैं। उनके पास एटीएम संबंधित कोई जानकारी के लिए फोन तक नहीं आया था। इस पर एसआई हिमांशु चौहान, गोपाल अजनार व प्रधान आरक्षक हरेंद्रपालसिंह राठौर की टीम ने जांच शुरू की। पता चला कि कालरा के बैंक खाते से पेटीएम के माध्यम से छोटे-छोटे ट्रांजेक्शन से रुपए निकाले गए हैं।

पेटीएम से जानकारी में पता चला कि संदीप कालरा के पुत्र साहिल कालरा ने ही अपने पेटीएम अकाउंट में रुपए ट्रांसफर किए हैं। पूछताछ में साहिल ने कबूला कि बहन की शादी के दौरान मां-बाप ने खर्च करने की जिम्मेदारी उसे दी थी। इस कारण उसने मां के बैंक खाते का एटीएम उपयोग करना शुरू कर दिया था। शादी के बाद से ही वह खाते से रुपए अपने पेटीएम वॉलेट में ट्रांसफर कर लेता था। अप्रैल से सितंबर तक उसने करीब 2.69 लाख रुपए ट्रांसफर किए।

चेक बाउंस हुआ तो पता चला

कालरा ने पुलिस को बताया कि उन्होंने कार खरीदने के लिए शोरूम को चेक दिया था। मगर वहां से फोन आया कि उनका चेक बाउंस हो गया है। जबकि उन्हें लगा कि खाते में पर्याप्त रुपए हैं। बैंक जाकर डिटेल निकाली तो उनके खाते में रुपए नहीं थे। इस पर उन्होंने राज्य सायबर को शिकायत की थी। जांच के बाद पता चला कि कालरा का पुत्र साहिल ही आरोपित है। साहिल इंदौर के कॉलेज में इंजीनियरिंग का छात्र है। मां-बाप उससे खासे नाराज हैं।

ड्रीम इलेवन क्रिकेट टीम बनाकर उड़ाए रुपए

टीआई गोमे के अनुसार साहिल को ऑनलाइन क्रिकेट गेम ड्रीम इलेवन खेलने का शौक है। यह खेल ऐसे खेला जाता है कि अगर कोई क्रिकेट मैच होने वाला है तो पहले गेम खेलने का इच्छुक इसमें इंट्री लेता है। इसके लिए उसे फीस चुकानी पड़ती है। इसके बाद वह अपनी टीम चुनकर खेलता है। अगर मैच के दौरान संबंधित की टीम या किसी खिलाड़ी ने अच्छा प्रदर्शन किया है तो उसे इनाम मिलता है। इसी खेल की लत के कारण साहिल ने मां के बैंक खाते से 2.69 लाख रुपए उड़ा दिए।