- रामघाट पर शिप्रा नदी में नहाने के दौरान गहरे पानी में डूबा

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रामघाट पर शिप्रा नदी में डूबने से 15 वर्षीय एक किशोर की मौत हो गई। मृतक अपने दोस्तों के साथ सोमवार को इंदौर के बाणगंगा क्षेत्र से उज्जैन आया था। नदी में नहाने के दौरान वह गहरे पानी में चला गया। महाकाल पुलिस ने मर्ग कायम किया है।

पुलिस ने बताया कि प्रियांशु यादव उम्र 15 वर्ष निवासी गोविंद नगर, बाणगंगा, इंदौर दसवीं कक्षा का छात्र था। सोमवार को वह अपने दोस्त गोलू व परवेश के साथ उज्जैन दर्शन करने के लिए आया था। यहां रामघाट पर शिप्रा नदी में नहाने के दौरान प्रियांशु गहरे पानी में चला गया। इससे उसकी डूबने से मौत हो गई। दोस्तों ने शोर मचाया तो घाट पर मौजूद तैराकों ने किशोर का शव नदी से निकाला।

महाराष्ट्र के युवक की हुई थी डूबने से मौत

महाराष्ट्र के चालीस गांव जलगांव निवासी अजय पंवार उम्र 24 वर्ष फूड डिलिवरी करने वाली कंपनी में काम करता था। आठ अगस्त को वह अपने दोस्त दीप व विजय के साथ उज्जैन में महाकाल दर्शन करने के लिए आया था। यहां रामघाट पर शिप्रा नदी में डूबने से उसकी मौत हो गई थी।

30 गोताखोरों की ड़यूटी के बाद भी हो रहे हादसे

होमगार्ड ने श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए रामघाट, नृसिंह घाट, दत्त अखाड़ा घाट क्षेत्र में सुरक्षा के लिए पांच रेस्क्यू बोट तैनात की है। इसके अलावा 30 तैराक, नाविक, सुरक्षा दस्ते के जवानों की ड्यूटी लगाई गई है। बावजूद इसके रामघाट पर जलगांव के युवक व इंदौर के किशोर की जान चली जाने से सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close