नागदा जंक्शन। यातायात विभाग द्वारा लंबे से कार्रवाई नहीं करने से बस संचालक मनमानी करने लगे हैं। शहर एवं आसपास के क्षेत्र में यात्री बसों में क्षमता से अधिक सवारी बैठाकर तेज गति से चल रहे हैं। जिससे बसों में यात्रा करने वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसी के साथ बड़ी संख्या में मैजिक भी बिना परमिट के चल रही है। कार्रवाई नहीं होने से इनके संचालक बेखौफ हैं।

उज्जैन-जावरा, नागदा-महिदपुर और खाचरौद-बड़नगर एवं खाचरौद-रतलाम ऐसे मार्ग हैं, जहां मप्र राज्य परिवहन या अन्य श्रेष्ठ बसों का अभाव होने के कारण निजी बस संचालकों द्वारा मनमानी की जा रही है। इन मार्गों पर बसों में सवार होकर यात्रा करने वालों की परेशानियों का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बारिश के दिनों में भी बस चालक एवं कंडक्टर द्वारा यात्रियों के साथ मवेशियों को भी बैठाकर ले जा रहे हैं, जिससे बस में यात्रा कर रहे अन्य यात्रियों को निर्धारित शुल्क चुकाने के बावजूद असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। इन मार्गों पर यातायात विभाग द्वारा लंबे समय से कार्रवाई नहीं किए जाने से दिन ब दिन इन बस संचालकों एवं बस चालकों में प्रशासन का खौफ कम होता जा रहा है।

इसी का परिणाम है कि इन मार्गों पर बस की क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाकर लापरवाहीपूर्वक वाहन चल रहे हैं, जिससे कई बार यात्री दुर्घटनाओं का शिकार हो जाते हैं। शहर के मध्य से गुजरने वाली अधिकांश बसों की हालत कंडम हो चुकी है। बावजूद बस मालिकों द्वारा यात्रियों की जान को खतरे में डालकर बेखौफ तेज रफ्तार से सड़कों पर दौड़ाया जा रहा है। विभाग से फिटनेस नहीं होने के कारण कंडम बसें भी चल रही है।

यातायात बल का अभाव जरूर है। पुलिस समय-समय पर कार्रवाई करती है। बस स्टैंड पर भी जवान तैनात कर दिया है। ऐसे बस संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। - श्यामचंद्र शर्मा, टीआइ, मंडी थाना नागदा

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close